नयी दिल्ली: कांग्रेस महासचिव के तौर पर उत्तर प्रदेश की अपनी पहली यात्रा से पहले प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि राज्य के लोगों के साथ मिल कर वह ‘नयी तरह की राजनीति’ शुरू करने की उम्मीद करती हैं, जिसमें हर किसी की हिस्सेदारी होगी. प्रियंका को पूर्वी उप्र का और ज्योतिरादित्य सिंधिया को पश्चिमी उप्र का प्रभारी कांग्रेस महासचिव नियुक्त किए जाने के बाद सोमवार को राज्य की उनकी यह पहली यात्रा होगी. उनके साथ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी होंगे. Also Read - कांग्रेस ने कहा- TMC वर्कर्स ने हमारे कार्यकर्ताओं पर भी हमला किया, स्थिति संभालें ममता बनर्जी

Also Read - Full Lockdown Update: राहुल गांधी बोले- कोरोना पर काबू पाने के लिए संपूर्ण लॉकडाउन ही एकमात्र उपाय

मायावती पर बीजेपी हमलावर, कहा- अब ‘बबुआ’ की ‘बुआ’ चुकाएं अपनी ही मूर्तियां लगाने में खर्च किया धन Also Read - Uttar Pradesh Lockdown Guidelines: यूपी में दो दिन तक लॉकडाउन जैसी पाबंदियां, नहीं चलेंगी रोडवेज बसें; यहां देखें ताजा दिशानिर्देश

पिछले महीने नयी नियुक्तियों की घोषणा होने के बाद ये लोग इस अहम राज्य का दौरा कर रहे हैं. प्रियंका ने कांग्रेस के शक्ति ऐप के जरिए कहा, ‘मैं आप सब से मिलने के लिए लखनऊ आ रही हूं. मुझे उम्मीद है कि साथ मिल कर हम नयी तरह की राजनीति शुरू करेंगे, ऐसी राजनीति जिसमें आप सब हित धारक होंगे…मेरे युवा मित्रों, मेरी बहनों और यहां तक कि सबसे कमजोर व्यक्ति, सबकी आवाज सुनी जाएगी.’

दलित वोटर्स को कांग्रेस के पाले में लाने के लिए ‘टीम यूपी’ करेगी प्रियंका गांधी और सिंधिया की मदद

तीनों नेताओं के हवाईअड्डे से पार्टी के राज्य मुख्यालय तक की यात्रा के दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं का रोड शो करने की योजना है. कांग्रेस लोकसभा चुनाव से पहले इस यात्रा को राज्य में पार्टी के चुनाव प्रचार के शंखनाद के तौर पर देख रही है. प्रियंका ने कहा, ‘आइए, एक नये भविष्य का निर्माण करें, मेरे साथ नयी राजनीति करें. धन्यवाद.’ सिंधिया ने अपने संदेश में कहा, ‘कल मैं आपके पास आ रहा हूं. उप्र के युवाओं को भविष्य के लिए एक खाके की और राज्य को बदलाव की जरूरत है. आइए हमारे साथ जुड़िये और उत्तर प्रदेश में बदलाव लाइए.’ कांग्रेस के दोनों महासचिव 12,13 और 14 फरवरी को लखनऊ में प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बात करेंगे.