गोरखपुरः रामजन्मभूमि न्यास के सदस्य और बीजेपी के पूर्व सांसद रामविलास वेदान्ती ने अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट में पक्ष रख रहे वरिष्ठ कांग्रेसी नेता कपिल सिब्बल और पूर्व केंद्रीय मंत्री पी. चिदंबरम को पाकिस्तानी आतंकवादियों द्वारा खरीदे जाने का आरोप लगाया है. वेदान्ती ने सोमवार को एक निजी कार्यक्रम से इतर संवाददाताओं से कहा कि कपिल सिब्बल ने (सुप्रीम कोर्ट में) कह दिया था कि गुजरात का चुनाव चल रहा है और वर्ष 2019 में लोकसभा का चुनाव होने वाला है, इसलिए तब तक इसको (अयोध्या प्रकरण की सुनवाई) टाल दिया जाए. पाकिस्तानी आतंकवादियों ने सिब्बल को खरीदा है. पी. चिदम्बरम को भी आतंकवादियों ने खरीदा है. ये दोनों नहीं चाहते कि इसका (अयोध्या विवाद का) निर्णय हो. उन्होंने कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी पर भी गम्भीर आरोप लगाए.

वेदान्ती ने दावा किया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के संयुक्त प्रयासों से अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण होगा. वर्ष 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले मंदिर बन जाएगा.

पहले भी वेदांती अपने विवादित बयानों के कारण चर्चा में रहे हैं. अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए सुलह की कोशिशों में लगे श्री श्री रविशंकर को षड्यंत्रकारी बताते हुए कहा था कि श्री श्री, राम जन्मभूमि को लेकर NGO बनाना चाहते हैं, जिससे राम जन्मभूमि मामला विवादित हो जाए और उसका कोई निर्णय ना हो सके. उन्होंने यह भी कहा था कि श्री श्री संतों को आपस में लड़ाने का कुचक्र भी रच रहे हैं.