देवरिया: देवरिया विधानसभा सीट के उपचुनाव में टिकट को लेकर कांग्रेस की स्थानीय इकाई में घमासान शुरू हो गया है. मामले को लेकर शनिवार को राष्ट्रीय सचिव की बैठक में हुई मारपीट के सिलसिले में कांग्रेस जिला अध्यक्ष समेत चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है. वहीं, अनुशासनहीनता के आरोप में दो नेताओं को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया. Also Read - बिहार: कांग्रेस के प्रदेश कार्यालय से 8 लाख रुपए बरामद, इनकम टैक्स अफसरों ने रणदीप सिंह सुरजेवाला से की पूछताछ

देवरिया सीट पर अगले माह होने जा रहे उपचुनाव के लिए कांग्रेस ने मुकुंद भाष्‍कर मणि को अपना प्रत्याशी बनाया है. पार्टी की नेता तारा यादव देवरिया सीट से मुकुंद भाष्‍कर मणि को टिकट दिए जाने से काफी नाराज हैं. उनका आरोप है कि मुकुंद बलात्कार के एक मामले में आरोपित रहें हैं, इसलिए उनको टिकट नहीं दिया जाना चाहिए. Also Read - वादा तेरा वादा.....बिहार चुनाव में लगी वादों की झड़ी, किस पार्टी ने जनता से क्या की है प्रॉमिस, जानिए

शनिवार को उपचुनाव को लेकर कांग्रेस की बैठक में अचानक उस वक्‍त हंगामा खड़ा हो गया जब टिकट न मिलने से नाराज तारा यादव ने राष्‍ट्रीय सचिव और प्रदेश प्रभारी सचिन नाइक पर हमला बोल दिया. नाइक से हो रही हाथापाई को देखकर पार्टी कार्यकर्ता भड़क गए. उन्‍होंने तारा यादव को पीटा और उनको धक्‍का देकर बैठक से बाहर निकाल दिया. बैठक में हुई हाथापाई और विवाद का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. Also Read - Bihar Assembly Election 2020: तेजस्वी की चाल में उलझा जदयू, 77 सीटों पर सीधा मुकाबला

इस पर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्‍यक्ष अजय कुमार लल्‍लू ने कड़ी कार्रवाई करते हुए अनुशासनहीनता करने वाले नेताओं दीनदयाल यादव और अजय कुमार सैंथवार को तत्‍काल प्रभाव से पार्टी से निष्‍कासित कर दिया है. इस बीच, अपर पुलिस अधीक्षक शिष्य पाल ने बताया कि कांग्रेस नेता तारा यादव ने कांग्रेस पार्टी के जिलाध्यक्ष समेत चार नामजद और अन्य के खिलाफ मारपीट व छेड़खानी करने का आरोप लगाते हुए कोतवाली में शनिवार को तहरीर दी थी. इसके आधार पर रविवार को सभी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है.

उधर ,राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने एक वीडियो संदेश में इस घटना पर अफसोस जताते हुए कहा कि इस तरह की वारदात से महिलाओं के राजनीति में उतरने की हिम्मत टूटती है. उन्होंने कहा कि एक राजनीतिक बैठक में एक महिला नेता की बुरी तरह पिटाई की गई. इसका संज्ञान लेते हुए मैंने उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक को अभियुक्तों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के लिए पत्र लिखा है.

रेखा ने कहा, ‘हम सभी चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा महिलाएं राजनीति में आएं लेकिन इस तरह की घटनाएं होंगी तो हम कैसे उन्हें राजनीति में शामिल होने के लिए तैयार कर सकेंगे? मैं उत्तर प्रदेश पुलिस से अपील करती हूं कि इस मामले के दोषियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाए.’ कांग्रेस की ओर से जारी एक बयान में अजय कुमार लल्‍लू ने इस घटना को कांग्रेस पार्टी को बदनाम करने की साजिश बताया है. उनके निर्देश पर इस घटना की जांच के लिए तीन सदस्‍यीय जांच कमेटी का गठन किया गया है.

देवरिया के प्रभारी और कांग्रेस के प्रदेश सचिव कौशल कुमार त्रिपाठी ने बताया कि तीन सदस्‍यीय जांच दल में अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की सदस्‍य तलत अजीज, प्रदेश महिला अध्‍यक्ष (पूर्वी जोन) शहला अहरारी, प्रदेश उपाध्‍यक्ष (पूर्वी) महिला कांग्रेस चंद्रकला पुष्‍कर को शामिल किया गया है. यह समिति तीन दिनों के भीतर अपनी जांच रिपोर्ट प्रदेश अध्‍यक्ष को सौंपेगी.

उधर, देवरिया सीट से उपचुनाव का टिकट पाए कांग्रेस प्रत्याशी मुकुंद भाष्‍कर मणि का कहना है कि उन पर बलात्कार का आरोप जरूर लगा था लेकिन यह मामला बहुत पहले ही खत्म हो चुका है.

(इनपुट भाषा)