Corona Virus in Uttar Pradesh: उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण लगातार बढ़ रहा है. शुक्रवार को 232 नए मरीजों के साथ संक्रमितों की संख्या 5735 पहुंच गई है. अब तक 3324 लोग ठीक होकर घर भी जा चुके है. इस वायरस से यहां 152 लोगों की मौत हो गई है.Also Read - अभी तक नहीं हुए कोरोना के शिकार; इसे किस्मत न मानें, हो सकती हैं ये वजह

संक्रामक रोग विभाग के संयुक्त निदेशक डॉ. विकासेंदु अग्रवाल ने बताया, “प्रदेश के आगरा में 839, मेरठ में 347, कानपुर नगर में 323, लखनऊ में 314, गौतमबुद्घनगर में 317, सहारनपुर में 227, फिरोजाबाद में 208, गजियाबाद में 214, मुरादाबाद में 175, वाराणसी में 124, बस्ती में 120, अलीगढ़ में 115, बुलंदशहर में 103, रामपुर में 111, हापुड़ में 91, बराबांकी में 133, बहराइच में 68, बिजनौर में 65, प्रयागराज में 65, रायबरेली में 61, मथुरा में 60, संभल में 57, प्रतापगढ़ में 59, सिद्घार्थ नगर में 75, गाजीपुर में 75, संतकबीर नगर में 52, जलौन में 42, लखीमपुर खीरी में 48, शामली में 37, गोंडा में 39, अमरोहा में 43 मामले हैं. Also Read - युवा शिविर में बोले पीएम मोदी, भारत आज दुनिया की नई उम्मीद बनकर उभरा है

वहीं, मुजफ्फरनगर में 39, सीतापुर में 39, कौशांबी में 44, बलरामपुर में 34, पीलीभीत में 38, जौनपुर में 91, झांसी में 30, सुल्तानपुर में 42, बागपत 27, गोरखपुर 29, अमेठी 31, बरेली 30,कन्नौज 28, देवरिया 30, फतेहपुर 33,मैनपुरी 25, मिर्जापुर 25, महराजगंज 32, अम्बेडकर नगर 31, श्रावस्ती 29, बांदा 23, औरैया 22, फरु खाबाद 22, हरदोई 23, हाथरस 21, इटावा 28, बदायूं 34, चित्रकूट 20, आजमगढ़ 31, चंदौली 15, बलिया 14, एटा 13, कासगंज 13, शाहजहांपुर 14, उन्नाव 22, भदोही 14, अयोध्या 53, कानपुर देहात 8, कुशीनगर 7, मऊ 13, महोबा 3, सोनभद्र 3, हमीपुर 4, ललितपुर में एक मामला मिला है.” Also Read - हमारे हिंदू धर्म में है कि कहीं पर भी पत्थर रख दो, एक लाल झंडा रख दो, पीपल के पेड़ के नीचे तो मंदिर बन गया: सपा प्रमुख

प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने कहा कि प्रदेश में 11 मई से ही एक्टिव केस कम है और ठीक होने वाले मरीजों की संख्या अधिक होने का क्रम जारी है. मोहन ने बताया कि गुरुवार को 7249 सैंपलों की टेस्टिंग की गई और 928 पूल टेस्ट किए गए. उन्होंने बताया कि आशा वर्करों द्वारा 6 लाख 58 हजार 982 लोगों की जांच की है. जांच में 764 लोगों को बुखार, जुखाम, खांसी आदि के लक्षण मिले. ऐसे लोगों का उपचार किया जा रहा है.

प्रमुख सचिव स्वास्थ्य ने बताया कि आरोग्य सेतु ऐप से स्वास्थ्य विभाग के कंट्रोल रूम द्वारा 29 हजार 10 लोगों को फोन कॉल किए गया. बातचीत के बाद लक्षणों के आधार पर लोगों को उचित सलाह दी जा रही है. हर अलर्ट पर जिले स्तर पर भी कार्य किया जा रहा है.