गौतमबुद्धनगर: उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्धनगर यानी नोएडा में मंगलवार को कोरोना वायरस के 63 नए मामले सामने आए, जिसके बाद कुल 607 सक्रिय संक्रमित मरीजों का उपचार जिले के अस्पतालों में किया जा रहा है. वहीं, इस वायरस की चपेट में आने से अब तक 19 लोगों की मौत हो चुकी है. राहत की बात यह कि 949 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं. Also Read - ENG vs PAK: खिलाड़ियों के बल्‍ले पर ‘लोगो’ के लिए भी PCB नहीं जुटा पाया स्‍पांसर, उठने लगे सवाल

दूसरी ओर, स्वास्थ्य विभाग ने जिले में कंटेनमेंट जोन की संख्या 282 कर दी है. श्रेणी 1 में 229 कंटेनमेंट जोन शामिल हैं तो वहीं श्रेणी 2 में 53 कंटेनमेंट जोन हैं. इन कंटेनमेंट जोन में बड़ी संख्या में हॉउसिंग सोसाइटी के टॉवर, गांव व बाजार शामिल हैं. Also Read - भारत में कोविड-19 जांचों की संख्या एक करोड़ के पार, चीन से बहुत पीछे

कंटेनमेंट जोन की नई व्यवस्था के अनुसार, अगर किसी हाउसिंग सोसाइटी के टॉवर में 1 संक्रमित मरीज मिलता है तो उस टॉवर को सील किया जाता है और अगर सोसाइटी के एक से अधिक टॉवर में संक्रमित लोग पाए जाते हैं तो वहां सामुदायिक उपयोग वाले स्थलों को भी सील किया जाता है. उसी तरह गांव में एक संक्रमित मरीज निकलने पर उस मोहल्ले को सील किया जा रहा है. गांव में एक से ज्यादा संक्रमित मरीज निकलते हैं तो पूरे गांव को सील किया जा रहा है. Also Read - Black Death: कोरोना के बाद चीन से निकली यह नई महामारी, यूरोप में मरे थे 5 करोड़ लोग, पढ़िए ये रिपोर्ट