लखनउ: देश के सबसे ज्यादा आबादी वाले राज्य उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ रही है. राज्य में रविवार को कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामले 1843 हो गए. प्रमुख सचिव (चिकित्सा एवं स्वास्थ्य) अमित मोहन प्रसाद ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘प्रदेश में कुल मामले 1843 हैं. इनमें से 289 मरीज उपचार के बाद पूर्ण रूप से स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं और 29 लोगों की दुर्भाग्यपूर्ण ढंग से मौत हो गयी है. मृतकों में से अधिकांश या तो बुजुर्ग थे या फिर पहले से किसी ना किसी गंभीर रोग से ग्रस्त थे.’ Also Read - Covid-19: जेल से बाहर आए लालू यादव ने ऑनलाइन मीटिंग में आरजेडी वर्कर्स से की से बातचीत

उन्होंने बताया कि अब सक्रि मामलों की संख्या 1525 है और सभी मरीजों का विभिन्न चिकित्सालयों में इलाज चल रहा है. कोरोना वायरस संक्रमण से राज्य के कुल 58 जिले प्रभावित हैं. प्रसाद ने बताया कि जहां तक नमूनों की जांच की बात है, कल 3876 नमूने जांचे गये और 3415 नमूने प्रयोगशालाओं में भेजे गये. Also Read - Coronavirus Cases In India: कोरोना के आंकड़ों में मामूली गिरावट, 1 दिन में 3.66 लाख लोग संक्रमित 3747 लोगों की मौत

उन्होंने बताया कि संक्रमण से प्रभावित पुरूष 79.1 फीसदी जबकि महिलाएं 20.85 फीसदी हैं. प्रसाद ने दोहराया कि घर के बुजुर्गों को इस संक्रमण से बचाने की आवश्यकता है. Also Read - 'कोरोना वायरस को जैविक हथियार बनाकर युद्ध लड़ना चाहता था चीन, 2015 में किया था टेस्ट'

उन्होंने कहा, ‘‘इस संक्रमण से घबराने की नहीं बल्कि बचाव करने की जरूरत है. सोशल डिस्टेंसिंग का कडाई से पालन करना है. एक मीटर से अधिक दूरी बनाकर रखेंगे तो संक्रमण की संभावना बहुत कम रहती है. चेहरे को मास्क, गमछे, दुपटटे या रूमाल से ढांकें. हाथ को साबुन और पानी से कम से कम 30 सेकण्ड तक धोयें. प्रतिरोधक क्षमता बढाने के लिए योग करें. नीम का सेवन करें. तुलसी और अदरख का काढा पियें. अजवाइन लें और गर्म पानी पीते रहें.’’

(इनपुट भाषा)