लखनऊ: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को कहा कि कण्ट्रोल रूम के माध्यम से राज्य सरकार द्वारा कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिये निरंतर मानीटरिंग की जा रही है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज यहां ‘स्वास्थ्य भवन’ परिसर में स्थित ‘राज्य संक्रामक रोग नियंत्रण कक्ष’ का निरीक्षण किया. इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने सम्बन्धित अधिकारियों को एक स्थायी और विस्तृत आधुनिक कण्ट्रोल रूम स्थापित करने के निर्देश दिये. Also Read - यूपी पुलिस टीम पर भीड़ ने किया हमला, IPS अफसर घायल, पुलिस चौकी जलाने की कोशिश

उन्होंने कण्ट्रोल रूम में आवश्यकतानुसार मानव एवं तकनीकी संसाधन बढ़ाने के भी निर्देश दिये. निरीक्षण के दौरान मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि लोगों की सहायता के लिये कण्ट्रोल रूम हेल्पलाइन नं0-18001805145 कार्यशील है. योगी ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा कोरोना वायरस से निपटने के लिये सभी तैयारियां की जा चुकी हैं. सभी जिला अस्पतालों और मेडिकल कालेजों में आइसोलेशन वार्ड की स्थापना की गयी है, ताकि कोरोना से प्रभावित मरीज को उचित इलाज मुहैया कराया जा सके. Also Read - औरंगाबाद : COVID-19 के लिए PPE और N95 मास्क ना होने से नाराज हुए डॉक्टर, घंटों किया प्रदर्शन

उन्होंने कहा कि राज्य में अभी कोरोना सेकेण्ड स्टेज में है, इसकी विस्तृत समीक्षा 20 मार्च को की जायेगी और आवश्यक निर्णय लिये जायेंगे. साथ ही, राज्य में केन्द्र सरकार द्वारा कोरोना के सम्बन्ध में जारी एडवाइजरी पर पूरा ध्यान दिया जा रहा है. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा प्रचार-प्रसार के माध्यम से कोरोना वायरस के सम्बन्ध में विस्तृत जानकारी जनता को दी जा रही है. पूरे प्रदेश में जगह-जगह पर पोस्टर लगाकर लोगों को कोरोना वायरस के सम्बन्ध में जागरूक किया जा रहा है. इसके लक्षणों, इसके उपचार तथा ‘क्या करें, क्या नहीं करें’ के विषय में जानकारी दी जा रही है. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार कोरोना वायरस की स्थिति की लगातार समीक्षा कर रही है. Also Read - कोविड-19 महामारी से छिड़ी जंग में पंकज आडवाणी ने 'PM-CARES Fund' में दान देने का किया ऐलान