नई दिल्ली: कुछ दिन पहले ठंड जाती हुई दिख रही थी, तेज धूप से गर्मी का अहसास होने लगा था, लेकिन अचानक हुए मौसम में बदलाव ने कई लोगों को मुश्किल में भी डाल दिया है. बारिश, ओले और तेज हवाओं के चलते ठंड की फिर से वापसी तो हुई, साथ ही किसानों के लिए ये परेशानी का सबब बना हुआ है. ओले गिरने व बारिश होने से फसलों को बड़े पैमाने पर नुकसान हुआ है. गेहूं सहित कई फसलों को ओलों ने नुकसान पहुँचाया है.

उत्तर प्रदेश के कई हिस्सों में किसान लगातार ख़राब हो रहे मौसम से परेशान हैं. मुरादाबाद के किसान राम खिलावन बताते हैं कि उन्होंने खीरा की फसल बोई है. बीते दिन गांव में फिर से बारिश के साथ ही ओले गिरे, इससे खीरे की फसल को नुकसान पहुंचा है. अधिकतर फसल खराब हो गई है.


झांसी के मऊरानीपुर के शिवनारायण सिंह परिहार बताते हैं मौसम खराब होने के साथ गेहूं की फसल को नुकसान पहुंचा है. लोगों ने सोचा भी नहीं था कि इस तरह से लगातार ओले गिरेंगे. इटावा में भी लगातार बिगड़े मौसम ने फसल को नुकसान पहुंचाया है. कुछ दिन पहले नोएडा में ज़बरदस्त ओलावृष्टि हुई थी. लोगों ने ओले गिरने को मजेदार बताया, लेकिन आसपास के किसानों की फसलों पर ओले मुसीबत बन कर गिरे. किसानों का कहना है कि इसी तरह से अगर मौसम खराब रहा तो उन्हें बड़े पैमाने पर नुकसान होगा.