नई दिल्ली: दिल्ली एनसीआर को एक बार फिर भूकंप के झटकों ने हिलाकर रख दिया. धरती हिलने लगी. जैसे ही लोगों ने कम्पन महसूस किया लोग घरों से बाहर की ओर भागे. यही हाल हरियाणा के रोहतक में भी हुआ. यहाँ भी भूकम्प के झटके महसूस किये गए. जैसे ही लोगों को धरती हिलती हुई महसूस हुई लोग घरों के बाहर भागे. दहशत इतनी थी कि कई लोग अब भी घरों के बाहर हैं. एनसीएस के मुताबिक भूकंप का केंद्र रोहतक ही था. भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 4.6 मांपी गई Also Read - Delhi/Noida/Gurugram Border: सप्ताह के अंत तक NCR में लॉकडाउन, सीमाओं को किया गया बंद

दिल्ली के अभिषेक बताते हैं कि वह बैठे हुए थे. तभी कुर्सी तेज हिलने लगे. उन्होंने घर में नज़र दौड़ाई और वैसे ही परिवार के अन्य सदस्यों को लेकर घर से बाहर भागे. रोहतक में लोग काफी देर तक बच्चों के साथ घरों के बाहर बने रहे. लोगों को जब लगा कि सब थम गया है तब ही अन्दर गए. बता दें कि पिछले डेढ़ महीने में पांचवीं बार भूकंप महसूस किया गया. हालांकि अब तक किसी के भी हताहत होने या संपत्ति को नुकसान पहुंचने की जानकारी सामने नहीं आई. इससे पहले 15 मई, 12 अप्रैल, 13 अप्रैल और 10 मई को दिल्ली क्षेत्र में हल्के तीव्रता के भूकंप महसूस किए गए. तीनों भूकंपों में भी किसी भी नुकसान की कोई खबर सामने नहीं आई थी. Also Read - इकबाल अंसारी का नेपाली पीएम ओली को जवाब, हनुमान जी को आया गुस्सा, तो नेपाल का नहीं चलेगा पता

ठीक इसी समय उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में जोरदार आंधी पानी भी आया. कानपुर मंडल की जगहों पर आंधी इतनी तेज आई कि सड़क पर दोपहिया वाहन तक उड़ गए होते. कई जगहों पर तीन शेड उड़ गए. कई जगहों पर भी अभी भी बारिश हो रही है. लोगों का कहना है कि बार-बार भूकंप के झटके मुश्किल में डाल रहे हैं. लोग पहले ही कोरोना के चलते दहशत में हैं.