लखनऊ: उत्‍तर प्रदेश के देवरिया जिले में एक दर्दनाक हादसा हो गया. देवरिया के गौरी बाजार थानाक्षेत्र के एक स्कूल में बुधवार दोपहर मटकी फोड़ प्रतियोगिता के दौरान झंडा स्तंभ गिरने से एक छात्रा की मौत हो गई, जबकि छह अन्य घायल हो गए. पुलिस ने बताया कि घायलों में मटकी फोड़ प्रतियोगिता देख रही गांव की पांच महिलाएं और एक छात्रा शामिल है. हादसा गौरी बाजार के प्राथमिक विद्यालय मदैना में हुआ. घायलों का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है. जिलाधिकारी अमित किशोर ने बताया जांच कराकर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

जानकारी के मुताबिक, देवरिया जिले के गौरी बाजार थानाक्षेत्र के ग्राम पंचायत उसरी बुजुर्ग के मदैना टोले पर ग्रामीणों ने श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का डोल रखा था. सुबह प्राथमिक विद्यालय मदैना के परिसर में ग्रामीण मटकी फोड़ने की तैयारी करने लगे. ग्रामीणों ने एक लोहे की पाइप गाड़ते हुए रस्सी का दूसरा सिरा स्कूल की छत पर बने ब्लॉक झंडा स्तंभ में बांध बीच में मटकी लटका दी. उस समय स्कूल खुला था और शिक्षक दिवस मनाया जा रहा था. मटकी फोड़ने के प्रयास के दौरान युवाओं की टोली अनियंत्रित हो गई. इसी दौरान सबसे उपर चढ़ा युवक रस्सी पकड़ कर लटक गया. स्कूल की छत पर बना ईंट का झंडा स्तंभ उसका भार बर्दाश्त नहीं कर सका और भरभरा कर गिर गया.

मथुरा में जन्माष्टमी पर बिजली ने रूलाया, लीलामंच से पुष्पांजलि छोड़ लौट गए ऊर्जामंत्री

प्रतियोगिता देख रहीं पांच महिलाएं भी जख्‍मी
इस हादसे में पांचवी कक्षा की छात्रा प्रियंका (10) और कक्षा दो की छात्रा जैनब (8) गंभीर रूप से घायल हो गई. इसके अलावा मटकी फोड़ प्रतियोगिता देख रही गांव की पांच महिलाओं को भी चोटें आईं. घायल छात्राओं को लेकर प्रधानाध्यापक दीपक कुमार सिंह सीएचसी गौरीबाजार पहुंचे जहां से उन्हें जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया. इसी दौरान रास्ते में प्रियंका की मौत हो गई, जबकि जैनब का जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है.