शाहजहांपुर (यूपी): बिहार से अगवा करके लाए गए एक डॉक्टर को रेलवे पुलिस ने उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म पर बेहोश पाया. डॉक्टर बिहार के सीवान जिले में क्लीनिक संचालित करते हैं. होश में आने के बाद डॉक्टर ने अपने अपहरण की कहानी बताई. डॉक्टर ने बताया कि कैसे उन्हें अगवा कर लाया गया.Also Read - सपा विधायक ने पुलिस अफसर के सिर पर दे मारा अपना सिर, झड़प, 150 के खिलाफ एफआईआर

Also Read - UP Police Exam Answer Key: पुलिस बोर्ड जल्द ही जारी करेगी SI परीक्षा की आंसर की, ऐसे करें चेक

बिहार : डीएम पति से मिलने धरना पर बैठ गई पत्‍नी, 20 घंटे बाद पटना वापस Also Read - UP Police ASI SI Exam 2021: एसआई, एएसआई भर्ती परीक्षा कल से हो शुरू, परीक्षा केंद्र पर इन नियमों का पालन करना अनिवार्य

रेलवे पुलिस बल के शाहजहांपुर प्रभारी वीके सिंह ने मंगलवार को बताया कि बिहार के सीवान जिले में अपना क्लीनिक संचालित करने वाले डॉक्टर उपेन्द्र कुमार यादव (25) को सोमवार को शाहजहांपुर रेलवे स्टेशन पर बेहोशी की हालत में पाया गया. होश में आने पर उन्होंने अपहरण के बारे में बताया. इसके बाद पुलिस ने बिहार पुलिस से संपर्क किया तो पता चला कि वाकई सीवान थाने में डॉक्टर के अपहरण का मामला दर्ज है.

यूपी की जेल: कैदियों ने बैरक को बनाया मयखाना, फोन कर बोले- ‘सुनो बेटा ये रायबरेली जेल है, जल्दी आओ, जेलर को 10 हजार दे देना’

पुलिस के अनुसार होश में आने पर डॉक्टर ने उन्हें अपने अपहरण की कहानी बताई. उन्होंने बताया कि सीवान में कुछ लोग गत रविवार की शाम को उनसे मिलने आए. उसके बाद उन्होंने उन्हें कार में जबरन बैठाकर अगवा कर लिया था. उन्होंने बताया कि सीवान जिले के महरुआ थाने में डॉक्टर के अपहरण का मामला दर्ज किया गया है. यादव को आज सुबह उनके परिजन के साथ सीवान भेज दिया गया.