नोएडा: पश्चिमी उत्तर प्रदेश के विशेष कार्यबल (एसटीएफ) तथा गोंडा पुलिस ने अगवा किए गए मेडिकल के एक छात्र को सुरक्षित बचा लिया है. मुठभेड़ के बाद छात्र को अगवा करने वाले तीन बदमाशों को भी गिरफ्तार किया गया. अपहरणकर्ताओं ने 70 लाख रुपए मांगे थे. शुक्रवार सुबह नोएडा एक्सप्रेस-वे पर मुठभेड़ के बाद एसटीएफ तथा गोंडा पुलिस ने डॉ. अभिषेक सिंह, नितेश और मोहित सिंह को गिरफ्तार किया. एसपी ने बताया कि एक अन्य आरोपी डॉ. प्रीति मेहरा की तलाश जारी है.Also Read - आजम खान बोले-मुझे एनकाउंटर की धमकी मिली है, जेल में कच्ची दाल के पानी से रोटी खाने को मिलती थी

Also Read - ऑर्केस्ट्रा पर मनपसंद गाना सुनना चाहता था युवक, लोगों ने मिलकर पीट-पीट कर मार डाला, केस दर्ज

वेस्‍ट के एसटीएफ के एसपी कुलदीप नारायण सिंह और गोंडा जिले के एसपी शैलेंश पांडे ने एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में शुक्रवार सुबह बताया कि जनपद बहराइच के रहने वाले मेडिकल के छात्र गौरव हालदार का 18 जनवरी को जनपद गोंडा से अगवा किया गया था.छात्र के पिता निखिल हालदार ने पयागपुर थाने में अपहरण की शिकायत दर्ज कराई थी. Also Read - घूमिये नोएडा का एक ऐसा रेस्टोरेंट जहां इंसान नहीं बल्कि रोबोट परोसते हैं टूरिस्टों को खाना

एसपी ने बताया कि जांच के दौरान छात्र के एनसीआर में होने की सूचना मिली और छात्र को सुरक्षित वहां से बचाया गया.इसके बाद एसटीएफ और पुलिस दल अपहरण करने वाले लोगों की तलाश में जुट गया.

शुक्रवार सुबह नोएडा एक्सप्रेस-वे पर मुठभेड़ के बाद एसटीएफ तथा गोंडा पुलिस ने डॉ. अभिषेक सिंह, नितेश और मोहित सिंह को गिरफ्तार किया. इनके पास से पुलिस ने अपहरण के लिए इस्तेमाल की गई एक कार, देसी तमंचा, कारतूस, छात्र को बेहोश करने के लिए इस्तेमाल किए गए ‘इंजेक्शन’ आदि बरामद किए हैं. एसपी ने बताया कि एक अन्य आरोपी डॉ. प्रीति मेहरा की तलाश जारी है. एसपी ने बताया उन्होंने बताया कि मामले में शामिल अन्य दो आरोपियों रोहित तथा सतीश को जनपद गोंडा से गिरफ्तार किया गया है.