मेरठ: पिछले 24 घंटे जिले में लगातार जारी मूसलाधार बारिश के कारण भावनपुर थाना क्षेत्र में एक मकान की छत गिर गई. इस हादसे में दो बच्चों की मलबे में दबने से दर्दनाक मौत हो गई जबकि तीन अन्य लोग घायल हो गए हैं. वहीं मैनपुरी में भी एक जर्जर मंदिर की दीवार ढहने से तीन बच्चों की मौत होने की सूचना है.

आधी रात को भरभरा के गिर गई छत
भावनपुर के थाना प्रभारी धर्मेन्द्र सिंह राठौड़ ने जानकारी देते हुए बताया कि जेई गांव निवासी इसराइल, उसकी पत्नी शबाना और तीन बच्चे कमरे में सो रहे थे. देर रात को तेज बारिश के कारण अचानक कमरे की कच्ची छत भरभरा गिर गई. उन्होंने बताया कि छत गिरने के चलते वो सभी मलबे में दब गए, उनकी चीख-पुकार सुनकर पड़ोसी मौके पर पहुंचे और उन सभी को मलबे से किसी तरह से निकाल कर अस्पताल पहुंचाया गया. इस दर्दनाक हादसे में इसराइल की पुत्री छह वर्षीय सुमैया और चार वर्षीय पुत्र अमजद की मौके पर ही मौत हो गई. जबकि अन्य तीन घायल लोगों का अस्पताल में इलाज चल रहा है.

आगरा में मूसलाधार बारिश से भारी तबाही, 4 की मौत

थाना प्रभारी के अनुसार पीड़ितों ने मामले में पुलिस कार्रवाई से इनकार किया है. वही मैनपुरी जनपद में भी एक दर्दनाक हादसे में तीन बच्चों ने जान गवां दी है, मैनपुरी से प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक जिले में गुरुवार को बारिश के बीच दीवार ढहने की घटनाओं में तीन बच्चों की मौत हो गई. करहल थाना क्षेत्र के दोस्तपुर गांव में बारिश के दौरान स्कूल से पढ़कर लौट रहे बच्चों पर एक जर्जर मंदिर की दीवार गिर गई. इस हादसे में कुमारी निशा (09) तथा नवनीत (08)  की मृत्यु हो गई. ऐसी ही एक अन्य घटना में कुसमरा इलाके में बारिश के बीच एक घर की दीवार ढह जाने से मलबे में दबकर आठ साल की एक बच्ची की मृत्यु हो गई.

UP: झूम के बरसे बादल पूरा प्रदेश पानी-पानी, घाघरा व शारदा नदियां उफान पर