लखनऊ: उत्तर प्रदेश में मेरठ जिले के थाना खरखौदा क्षेत्र में पुलिस और गौ तस्करों के बीच हुई मुठभेड़ में एक गौ तस्कर गोली लगने से घायल हो गया. पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है. पकड़े गए तस्‍कर ने गौकसी कर रहे अपने अन्य साथियों का नाम पुलिस को बता दिया है. इसके बाद उनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस की कई टीम दबिश दे रही हैं. Also Read - MP में धर्म परिवर्तन का पहला मामला हुआ दर्ज, आरोपी को नए अध्यादेश के तहत पुलिस ने किया गिरफ्तार

Also Read - यूपी के मंत्री का विवादित बयान, ममता बनर्जी को बताया 'इस्लामिक आतंकवादी'

इलाहाबाद में रिटायर्ड दरोगा की पीट-पीटकर हत्‍या, देखते रहे मोहल्‍ले के लोग, CCTV में कैद वारदात Also Read - यूपी में बच्‍चों के यौन शोषण मामला: बर्खास्त बीजेपी नेता के लैपटॉप में मिले कई अश्लील वीडियो

जिला पुलिस प्रवक्ता के अनुसार आज सुबह खरखौदा पुलिस को सूचना मिली कि अल्लीपुर जंगल में गंदे नाले के किनारे आठ-दस लोग गौकसी कर रहे हैं. सूचना मिलने पर पुलिस जैसे ही अल्लीपुर मार्ग पर पहुँची, गौकसी कर रहे लोग गोली चलाते हुए गन्ने के खेत में छिप गए. उन्होंने बताया कि मौके पर गौवंश के अवशेष, काटने के औजार-कुल्हाड़ी, छुरी आदि, एक बाइक तथा एक कार बरामद हुई. जिला पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि सूचना मिलते ही कई थानों की पुलिस ने बदमाशों की घेराबंदी और तलाश शुरू कर दी. इस दौरान एक बदमाश गन्ने के खेत में दिखाई दिया जो पुलिस की तरफ गोली चलाते हुए भागने लगा.

पीलीभीत जिले में जन्माष्टमी पर भंडारे का प्रसाद खाने से 25 लोग बीमार, 13 गंभीर

बदमाश के पैर में लगी गोली

उन्होंने बताया कि मुठभेड़ में बदमाश के पैर में गोली लग गयी और उसे गिरफ्तार कर लिया गया. गिरफ्तार बदमाश की पहचान हर्रा निवासी शमशाद के रूप में हुई है, जो शातिर किस्म का गौ तस्कर है. उसके खिलाफ गौकसी के दर्जनों मामले दर्ज हैं. जानी और खरखौदा पुलिस को काफी दिनों से उसकी तलाश थी. उस पर 25,000 रुपये का इनाम घोषित था. पुलिस प्रवक्ता के अनुसार गिरफ्तार शमशाद ने गौकसी कर रहे अपने अन्य साथियों का नाम पुलिस को बता दिया है, जिनकी गिरफ्तारी के लिये पुलिस की कई टीम दबिश दे रही हैं.