मथुरा: उत्‍तर प्रदेश मथुरा से सांसद हेमा मालिनी ने विपक्ष पर किसानों को भ्रमित करने का आरोप लगाते हुए केंद्र सरकार द्वारा लागू किए गए कृषि कानूनों को किसानों व खेती के लिए बेहतर बताया. Also Read - Delhi NCR Traffic Alert: गणतंत्र दिवस परेड के पूर्वाभ्यास से पहले दिल्ली यातायात पुलिस ने जारी किया अलर्ट, इन रास्तों में जानें से बचें

मथुरा से सांसद हेमा मालिनी ने कहा, वे (आंदोलनकारी किसान) यह भी नहीं जानते कि वे क्या चाहते हैं और खेत कानूनों के साथ क्या समस्या है, जो दर्शाता है कि वे ऐसा कर रहे हैं, क्योंकि किसी ने उन्हें ऐसा करने के लिए कहा . Also Read - Farmers Protest: किसानों और सरकार के बीच नौवें दौर की वार्ता भी रही बेनतीजा, अगली मीटिंग 19 जनवरी को

बता दें बीजेपी सांसद हेमा मालिनी सोमवार को मथुरा के वृंदावन स्थित अपने आवास पहुंची हैं. इससे पहले वह बीते वर्ष फरवरी माह में कुछ दिन के लिए मथुरा आई थीं. मंगलवार को उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ”नए कृषि कानूनों में कोई कमी नहीं है. लेकिन विपक्ष के बहकावे में आकर लोग आंदोलन कर रहे हैं.” Also Read - Kisan Andolan: किसानों और सरकार के बीच वार्ता जारी, कृषि मंत्री ने अन्नदाताओं से की अपने रुख को नरम करने की अपील

कोरोना वैक्सीन पर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष एवं प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के बयान पर हेमामालिनी ने कहा, ”विपक्ष का काम हमारी सरकार के हर अच्छे काम पर उल्टा बोलना है. केंद्र सरकार विपक्ष की परवाह किए बिना हर मुद्दे पर अडिग खड़ी है.”

एक सवाल के जवाब में हेमामालिनी ने कहा, ”टीका लगवाने के लिए मैं अपनी बारी के इंतजार में हूं, देशी टीका लगवाने के लिए उत्सुक हूं.”