लखनऊ: यूपी में कोरोना महामारी के दौरान एक खुशखबरी सामने आई है. यहां महामारी के बावजूद विदेशी कंपनिया निवेश करने को तैयार हैं. विदेशी कंपनियों द्वारा 45 हजार करोड़ रुपये के निवेश का रास्ता भी अब साफ हो चुका है. बता दें कि ये निवेश अमेरिका, दक्षिण कोरिया, जापान, कनाडा, ब्रिटेन और जर्मनी की कंपनियां कर रही हैं. इन प्रोजेक्ट्स के लिए कंपनियों को जमीनों का आवंटन भी किया जा चुका है साथ ही इसके होने से यूपी में 1,35,362 लोगों को रोजगार का अवसर भी मिलेगा. Also Read - बुंदेलखंड के बांदा में कर्ज के चलते की किसान ने सुसाइड, पत्‍नी ने कहा- बैंक लोन की वसूली का था दबाव

औद्योगिक विकास आयुक्त आलोक टंडन और औद्योगिक विकास विभाग के अपर मुख्य सचिव आलोक कुमार द्वारा शुक्रवार को प्रेस रिलीज जारी किया गया. इसमें बताया गया कि इन कंपनियों में कई विदेश कंपनियों जैसे- सूर्या ग्लोबल, हिंदुस्तान यूनिलीवर, केसों पैकेजिंग, माउंटेन व्यू टेक्नोलॉजी और हीरानंदानी ग्रुप जैसी कंपनिया शामिल हैं. Also Read - इस डॉक्टर ने पेश की मिसाल, जरूरतमंद बेटियों को दे रहीं शिक्षा, जगा रहीं उम्मीद की अलख

बता दें कि इस निवेश के बाबत यूपी सरकार ने औद्योगिक विकास के लेकर एक्सप्रेस वे के किनारे 22,000 एकड़ भूमि की पहचान की है जिनका आवंटन किया जाएगा. इसके तहत कई जिलों- आगरा, उन्नाव, मैनपुर, फिरोजाबाद, बाराबांकी इत्यादि स्थानों की पहचान की गई है. ये वो क्षेत्र हैं जहां निवेश की उच्च संभावना है. बता दें कि यूपी में निवेश के आने से 1,35,362 लोगों को रोजगार मिलेगा. Also Read - यूपी: युवती पर बना रहा था धर्म परिवर्तन का दबाव, ग‍िरफ्तार आरोपी पहुंचा जेल की सलाखों के पीछे