मिर्जापुर: उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर में नॉर्थ-ईस्ट एक्सप्रेस के इंजन और जेनरेटर रूम में आग लगने से अफरातफरी का माहौल हो गया. इस घटना में किसी के घायल होने की कोई सूचना नहीं है. इस हादसे के बाद हावड़ा-नई दिल्ली अप लाइन पर यातायात भी प्रभावित हो गया है.

मिर्जापुर रेलवे के स्टेशन अधीक्षक रवींद्र कुमार ने बताया कि मिर्जापुर के कैलहट रेलवे स्टेशन के पास गुरुवार गुवाहाटी से आनंद विहार जा रही 1205 नॉर्थ-ईस्ट एक्सप्रेस गुजर रही थी. तभी ट्रेन के जेनरेटर बोगी में शॉर्ट सर्किट से आग लग गई. यह देख ट्रेन के चालक ने तुरंत कंट्रोल रूम को सूचना दी. चालक ने समझदारी दिखाते हुए ट्रेन को रोककर अन्य बोगियों को अलग किया. उन्होंने बताया कि हादसे के कारण दिल्ली से हावड़ा अप और डाउन लाइन पर आवागमन ठप्प होने से तमाम ट्रेनों को जगह-जगह रोक दिया गया है. आग पर काबू पाने का प्रयास किया जा रहा है. कोई हताहत नहीं हुआ है. मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड की दो गाड़ियों ने आग पर काबू पाया. साथ ही जीआरपी पुलिस व रेलवे के अधिकारी भी पहुंचे हैं.

 

मेडिकल यान के साथ लगभग 25 सदस्यीय चिकित्सकों की टीम रवाना
स्टेशन मैनेजर नरेंद्र सिंह ने बताया कि मेडिकल यान के साथ लगभग 25 सदस्यीय चिकित्सकों की टीम मौके पर भेज दी गई है. चंदौली के दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन पर सायरन बजा तो आनन फानन में रिलीफ ट्रेन और दुर्घटना राहत यान मौके के लिए रवाना हुई. टीम में सीएमएस डा. जी.एस. दुबे, डा. आर.पी. सिंह, डा. ए.के. सिंह व एक महिला चिकित्सक के साथ पैरामेडिकल स्टाफ शामिल हैं.