आजमगढ़ (यूपी): शहर कोतवाली क्षेत्र के हर्रा की चुंगी इलाके में रविवार की शाम आचानक पटाखों के गोदाम में आग लगने से पांच लोगों की झुलसकर मौत हो गयी जबकि करीब दर्जन भर लोग जख्मी हो गये. जिलाधिकारी शिवाकांत द्विवेदी ने बताया कि पांच लोगों की मौत हुई है. लगभग 12 अन्य झुलसकर जख्मी हुए हैं. गैस वेल्डिंग मशीन की चिन्गारी से पास की दुकान—टेंट हाउस में आग लग गयी. वहां पटाखे भी रखे थे. पटाखों के लिए आवश्यक लाइसेंस नहीं लिया गया था.

पुलिस ने बताया कि दर्जन भर झुलसे लोगों का इलाज जिला चिकित्सालय में चल रहा है. इनमें से कई की हालत गंभीर बताई जा रही है. पुलिस के अनुसार शहर कोतवाली क्षेत्र के हर्रा की चुंगी स्थित एक व्यक्ति के मकान में पटाखे का गोदाम था. शाम करीब पांच बजे अचानक आग लगी. आग लगते ही गोदाम में एक के बाद एक धमाके होने शुरू हो गये. जब तक लोग कुछ समझ पाते, आग इतनी तेजी से फैली कि पूरा घर उसकी चपेट में आ गया. स्थानीय लोगों ने तत्काल दमकल विभाग और पुलिस नियंत्रण कक्ष को सूचना दी. मौके पर पहुंची दमकल की दो गाड़ियां आग बुझाने के काम में जुट गईं.

मनोहर पर्रिकर: 25 साल का करियर, 4 बार CM, 1 बार बने रक्षामंत्री, ऐसा रहा राजनीति के ‘कॉमन मैन’ का सफर

वहीं, पुलिस और जिला प्रशासन ने राहत और बचाव का कार्य तेज करते हुए घर के अन्दर से एक दर्जन से अधिक झुलसे लोगों को बाहर निकाला. सभी को जिला चिकित्सालय में उपचार के लिए भर्ती कराया गया जहां पांच की मौत हो गयी. शव बुरी तरह से झुलस गये हैं जिससे अभी तक शवों और घायलों की शिनाख्त नहीं हो सकी है. मौत का आंकड़ा अभी और बढ़ सकता है. पुलिस अधीक्षक नगर कमलेश बहादुर सिंह ने पटाखे के गोदाम में आग लगने की बात को नकारा है. उनका कहना है कि बगल में गैस वेल्डिंग की दुकान है. इसी दुकान की चिंगारी से सम्भवतः आग लगी, जिससे बगल के मकान में आग तेजी से फैल गयी.