लखनऊ: यूपी के गाजियाबाद में लोनी विधानसभा सीट से बीजेपी विधायक नंद किशोर गुर्जर पर जानलेवा हमला हुआ है. घटना रविवार रात की बताई गई है. विधायक की कार पर बाइक सवार बदमाशों ने ताबड़तोड़ फायरिंग की, हालांकि उनके सुरक्षा गार्डों ने जवाबी फायरिंग किया. इस दौरान विधायक ने किसी तरह पुलिस चौकी पहुंचकर अपनी जान बचाई. पुलिस हमलावरों की तलाश में जुटी हुई है.Also Read - सपा के शासन में जाली टोपी वाले गुंडे व्यापारियों को धमकाते थे, UP Dy CM केशव मौर्य

Also Read - PM मोदी 7 दिसंबर को यूपी के गोरखपुर में 9600 करोड़ के प्रोजेक्‍ट्स देश को समर्पित करेंगे, AIIMS का भी उद्घाटन करेंगे

जानकारी के मुताबिक, बीजेपी विधायक नंदकिशोर गुर्जर रविवार रात मवाना (मेरठ) में संघ की बैठक से वापस अपने गनौली गांव लौट रहे थे. तभी बाइक सवार हमलावरों ने उनकी गाड़ी को निशाना बनाया. बीजेपी विधायक का कहना है कि दो बाइक पर चार हमलावर थे. उन्होंने उनकी गाड़ी को सामने से आते देख दोनों साइड से फायरिंग शुरू कर दी. उन्होंने गाड़ी में अपना सिर नीचे करके जैसे-तैसे अपनी जान बचाई. बता दें कि विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने कुछ दिनों पहले अपने ऊपर जानलेवा हमले की आशंका जताई थी. उन्होंने पुलिस से सुरक्षा की भी डिमांड की थी, लेकिन उन्हें अतिरिक्त सुरक्षा नहीं दी गई थी. Also Read - UP के छात्रों को अगले महीने से मिलना शुरू होंगे फ्री स्मार्टफोन और टैबलेट, योगी सरकार देने जा रही बड़ी सौगात

अज्ञात हमलावरों के खिलाफ दी शिकायत
विधायक पर हमले के बाद पुलिस ने पूरे इलाके में कांबिंग की, लेकिन हमलावरों का पता नहीं चल सका. हमलावरों का पता लगाने के लिए पुलिस टीमें बनाकर सर्च अभियान चलाया जा रहा है. मामले में विधायक नंदकिशोर गुर्जर की ओर से अज्ञात हमलावरों के खिलाफ शिकायती पत्र पुलिस को दिया गया है. बता दें कि नंदकिशोर गुर्जर युवाओं में बेहद लोकप्रिय होने के साथ ही लोगों के बीच लोनी इलाके में कट्टर हिंदुवादी छवि के भाजपा नेता माने जाते हैं. वे योगी आदित्यनाथ के भी नजदीकी रहे हैं. विधानसभा चुनाव से पूर्व योगी आदित्यनाथ ने उनके लिए लोनी में सभा की थी.