फिरोजाबाद: उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद जिले में सोमवार को पालीवाल ऑडिटोरियम में भाजपा नेता की बदसलूकी और धमकी के चलते नगर निगम में निर्माण विभाग के एक्सईएन बेहोश होकर गिर पड़े. उन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है. वहां से प्राइवेट ट्रॉमा सेंटर में भेज दिया गया. इसके विरोध में निगम कर्मचारी तालाबंदी कर धरने पर बैठ गए हैं. उधर, एक्सईएन की पत्नी ने भी उनके पति पर मानसिक दबाव बनाने का आरोप लगाया. वहीँ, बीजेपी नेता ने घटना को तमाशा करार दिया है. घटना का वीडियो वायरल हो रहा है. इसमें बीजेपी नेता कहते दिख रहे हैं कि तुम नौकरी करने के लायक नहीं हो, तुम्हें बेवकूफी में चार्ज दे दिया गया है. इस पर एक्सईएन ने कहा कि तो किसी और चार्ज दिलवा दो. इस जवाब पर बीजेपी नेता बिफर पड़े. Also Read - निजामुद्दीन मरकज में शामिल हुए 157 लोगों की यूपी में तलाश, 8 इंडोनेशियाई बिजनौर की मस्जिद में मिले

बीजेपी विधायक के पति की गुंडागर्दी, तहसीलदार को चैम्बर में घुसकर पीटा, एफआईआर Also Read - Corona के खिलाफ जंग: PM मोदी को होती है हर केस की जानकारी, वार रूम की तरह काम कर रहा PMO

शहर के पालीवाल ऑडीटोरियम में सामूहिक विवाह समारोह की तैयारियां चल रहा हैं. नगर निगम में निर्माण विभाग के एक्सईन एवं प्रभारी नगर आयुक्त विकास कुरील भी तैयारियों में जुटे थे. इस दौरान वहां भाजपा के महानगर उपाध्यक्ष रामनरेश कटारा आ गए. यहां भाजपा नेता और एक्सईएन विकास कुरील के बीच किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई. आरोप है कि भाजपा नेता ने उनके साथ अभद्रता और गाली-गलौज की, उन्हें धमकी भी दी. इससे घबराए कुरील का ब्लेड प्रेशर बढ़ गया और बेहोश होकर गिर पड़े. Also Read - COVID-19: कोरोना को लेकर पूर्वांचल में डर, प्रवासी बढ़ा सकते हैं यूपी सरकार की परेशानी

अमेठी: स्मृति ईरानी ने योजनाएं शुरू करने को चुना इंदिरा गांधी जयंती का दिन, सपा ने विरोध में लगाए ये पोस्टर

आनन-फानन में उनको जिला अस्पताल लाया गया. इसके बाद हालत ठीक ना होने पर सेवार्थ संस्थान के ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया है. एक्सईएन ने भाजपा नेता पर धमकाने और गाली-गलौज करने का आरोप लगाया है. उधर, एक्सईएन की पत्नी ने अस्पताल पहुंचकर आरोप लगाया की उनके पति पर कई विभाग देकर मानसिक दबाव बना दिया है. वे इन दिनों डिप्रेशन की स्थिति में है. वहीं, भाजपा नेता रामनरेश कटारा ने कहा कि काम न करना पड़े, इसलिए एक्सईएन कुरील तमाशा कर रहे हैं. उधर, इस घटना के बाद निगम कर्मचारी तालाबंदी कर धरने पर बैठ गए.