प्रयागराज: उत्तर प्रदेश एसटीएफ ने प्रतियोगी परीक्षाओं में धांधली और नकल कराने वाले अंतरराज्यीय गिरोह के सरगना समेत पांच सदस्यों को शनिवार को गिरफ्तार किया और उनके पास से नकल कराने के उपकरण, अभिलेख और 1.24 करोड़ रुपये के भरे हुए चेक बरामद किए.

अपर पुलिस अधीक्षक (एसटीएफ) नीरज पांडेय ने बताया कि सूत्रों से पता चला कि 30 सितंबर और एक अक्तूबर को होने वाली लोअर सबआर्डिनेट की परीक्षा में अभ्यर्थियों से पैसा लेकर विभिन्न तरीकों से उन्हें पास कराने वाले गिरोह के कुछ सदस्य तेलियरगंज के पास एकत्रित हो रहे हैं. उन्होंने बताया कि सूचना की पुष्टि होने पर एसटीएफ की टीम स्थानीय पुलिस बल के साथ उक्त स्थान पर पहुंची जहां संदिग्ध पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया.

गिरोह के सरगना अहमद अली ने पूछताछ करने पर बताया कि वह और गिरोह के अन्य सदस्य इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों, बैटरी, ईयरफोन, थंब इप्रेशन आदि का प्रयोग करने और इस संबंध में लेनदेन आदि के बारे में बातचीत करने के लिए एकत्र हुए थे. एसटीएफ की टीम ने इन अभियुक्तों की पहचान अहमद अली (सिद्धार्थ नगर), अरुण यादव (निवासी बलिया), संदीप कुमार (निवासी मिर्जापुर), मोहम्मद सफीउल्लाह (बक्सर, बिहार) और अमन कुमार (झूंसी, प्रयागराज) के तौर पर की है.

इन अभियुक्तों के पास से इलेक्ट्रॉनिक उपकरण से युक्त सात पूरे बांह की शर्ट, एक इलेक्ट्रॉनिक उपकरण, 15 डिवाइस बैटरी, 37 ईयरफोन मैग्नेट, 13 थंब इंप्रेशन प्लास्टिक, दो मुहरें, 23 भरे हुए चेक और 25 ब्लैंक चेक, पांच आधार कार्ड, चार पेन ड्राइव, चार वाहन, 10 मोबाइल फोन, 134 प्रवेश पत्र और 42,100 रुपये की नकदी बरामद की गई है.