BJP Uttar Pradesh भारतीय जनता पार्टी के उत्तर प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने राज्य में संगठन को मजबूती प्रदान करने के लिये प्रदेश में शनिवार को एक उपाध्यक्ष एवं दो प्रदेश सचिवों को नियुक्त किया है. भाजपा मुख्यालय से जारी बयान के अनुसार प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने पूर्व नौकरशाह एवं मऊ से विधान परिषद सदस्य ए के शर्मा को प्रदेश उपाध्यक्ष बनाया है. बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के करीबी व पूर्व आईएएस भाजपा एमएलसी अरविंद कुमार शर्मा बीते कई दिनों से यूपी राजनीति में चर्चा का केंद्र रहे.Also Read - पीएम मोदी ने 'प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना' के लाभार्थियों से की बात, सामान्य वर्ग को लेकर कही ये बात

शर्मा को संगठन और सरकार में जगह देने के लिए पिछले कुछ समय से अटकलों का बाजार गर्म था. बयान में कहा गया है कि इसके अलावा अर्चना मिश्रा (लखनऊ) तथा अमित वाल्मीकि (बुलन्दशहर) को प्रदेश मंत्री नियुक्त किया गया है. Also Read - संसद में गतिरोध के मुद्दे पर पीएम मोदी का हमला- 'सेल्फ गोल' करने में जुटा है विपक्ष

गौरतलब है कि एके शर्मा गुजरात कैडर के 1988 बैच के भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) के अधिकारी थे और लंबे समय तक प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के साथ कार्य किये था. स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति के बाद उन्होंने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की और इसके बाद शर्मा को भाजपा ने उत्तर प्रदेश विधान परिषद का सदस्य बनाया. Also Read - संसद का सम्मान कांग्रेस के संस्कार में नहीं: भाजपा

इसके बाद से ही उनको उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार में मंत्री बनाने की चर्चा जोरों पर थी. एके शर्मा को अब भाजपा के उत्तर प्रदेश संगठन में शामिल किया गया है. उनको पार्टी का प्रदेश उपाध्यक्ष बनाया गया है.

Image

माना जा रहा है कि 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव के दृष्टिगत उन्हें संगठन में उपाध्यक्ष का पद सौंपा गया है.