लखनऊ: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भाजपा सरकार पर निशाना साधा और कहा कि उत्तर प्रदेश में ‘डबल इंजन की नहीं, डबल दुर्गति’ की सरकार है. अखिलेश यादव ने यहां शनिवार को अपने जारी बयान में कहा कि उत्तर प्रदेश में डबल इंजन की सरकार के नाम पर विकास के बड़े-बड़े सपने दिखाए गए थे. भाजपा ने बिना कुछ काम किए साढ़े तीन साल बिता दिए. अब तो सभी यह मानने लगे हैं कि उत्तर प्रदेश में डबल इंजन नहीं डबल दुर्गति की सरकार है.Also Read - Goa: पूर्व मुख्‍यमंत्री रवि नाइक ने दिया कांग्रेस के व‍िधायक पद से इस्तीफा, BJP में हो सकते हैं शामिल

उन्होंने कहा कि इस सरकार के गठन के समय मुख्यमंत्री ने दावा किया था कि अपराधी या तो जेल में होंगे या फिर प्रदेश के बाहर हो जाएंगे. लगता है, मुख्यमंत्री ने भी भाजपा की पंरपरा को निभाते हुए अपने वादों को जुमला मानकर, कोई सख्त कदम उठाने के बजाय, आंख मूंदकर बैठ गए हैं. Also Read - Omicron वेरिएंट के बढ़ते मामलों के बीच उत्तर प्रदेश के इस शहर में धारा 144 लागू, जानें क्या-क्या रहेगी पाबंदी

सपा मुखिया ने कहा कि भाजपा राज में महिलाओं के खिलाफ अपराध थम नहीं रहे हैं. चाहे गोरखपुर मंडल हो या अन्य मंडल सब में अपराधों के आंकड़ों में एक-दूसरे को पछाड़ने की होड़ लगी है. पिछले दो वर्षो की अपेक्षा इस वर्ष आठ माह में ही महिलाओं के प्रति अपराध की घटनाएं बढ़ गई हैं. महिलाओं, बच्चियों से दुष्कर्म की घटनाएं 8 माह में गत वर्ष के बराबर घटी है. Also Read - UP Assembly Election 2022: हो गया SP-RLD का गठबंधन, जयंत-अखिलेश ने किया भाजपा पर डबल अटैक

सपा अध्यक्ष ने कहा कि रायबरेली, बलिया के बाद श्रावस्ती के गिलौला थाने में आठ दिन ननके दर्जी को हिरासत में रखकर थर्ड डिग्री टार्चर किया गया, जिससे उसकी दर्दनाक मौत हो गई. इस घटना के पीड़ित परिजनों से मिलने और संवेदना जताने जा रहे समाजवादी पार्टी के एमएलसी डॉ़ राजपाल कश्यप और श्रावस्ती के जिलाध्यक्ष को गिरफ्तार कर लिया गया. उन्होंने कहा कि पीड़ित परिवार को समाजवादी पार्टी एक लाख रुपये की मदद देगी. भाजपा सरकार कम से कम 25 लाख रुपये की मदद दे.