यूपी: इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (आईआईटी) गुवाहाटी ने ग्रेजुएट एप्टीट्यूड टेस्ट इन इंजीनियरिंग गेट-2018 का रिजल्ट शनिवार को घोषित कर दिया. इसमें किसान के बेटे प्रशांत गुप्ता ने केमेस्ट्री सब्जेक्ट में देश में पहला स्थान हासिल किया है. प्रशांत गुप्ता यूपी की राजधानी लखनऊ के इटौंजा के रहने वाले हैं. प्रशांत ने गेट में 986 स्कोर पाकर यह सफलता प्राप्त की है. उनके पिता अविनाश गुप्ता किसान हैं और मां मधु गुप्ता गृहणी हैं. Also Read - आज के समय में भारत के लिए क्यों जरूरी है 'क्वाड'? विदेश मंत्री एस जयशंकर ने बताए इसके मायने

Also Read - भारत के हाथ 35 वर्षों बाद लगी सफलता, ILO की गवर्निंग बॉडी की मिली अध्यक्षता

 यह भी पढ़ें: कैसे करें आईएएस परीक्षा की तैयारी? Also Read - RAW प्रमुख से मिले नेपाल के प्रधामनंत्री केपी शर्मा ओली, शुरू हुआ 'विवाद'

बता दें कि प्रशांत ने साल 2011 में इटौंजा के सेंट जेवियर्स इंटर कॉलेज से यूपी बोर्ड इंटर का बोर्ड एग्जाम पास किया था. इसके बाद एक साल इंजीनियरिंग की तैयारी की, लेकिन सफलता न मिलने पर बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी बीएचयू से बीएससी की पढ़ाई की. साल 2017 में आईआईटी दिल्ली से एमएससी की पढ़ाई पूरी की. प्रशांत पिछले साल भी परीक्षा में शामिल हुए थे, लेकिन रैंक अच्छी नहीं आने पर उन्होंने दोबारा तैयारी की. प्रशांत बताते हैं कि उन्होंने रोज 13 से 14 घंटे पढ़ाई की.

वहीं इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग के स्टूडेंट रजत चावला ने गेट में कम्प्यूटर साइंस विषय में 102 रैंक हासिल की है. आगरा के रहने वाले रजत ने पहले प्रयास में ही यह सफलता हासिल कर ली. रजत कहते हैं कि तैयारी के दौरान अपने नोट्स बनाना बेहद जरूरी है. इससे परीक्षा से पहले रिवीजन करने  में काफी मदद मिलती है.