लखनऊ: उत्‍तर प्रदेश के गाजियाबाद जिले के साहिबाबाद थाना क्षेत्र में संदिग्ध परिस्थितियों में एक कार में आग लग गई, जिसके चलते कार चालक की मौके पर ही मौत हो गई. सूचना पर पहुंची पुलिस और फॉरेंसिक टीम ने कार में आग लगने के कारणों की जांच शुरू कर दी है. वहीं, मृतक के परिजनों ने मामले में हत्या की आंशका जताते हुए पुलिस को तहरीर दी है.Also Read - सुहागरात पर दूल्हे ने दोस्तों को सौंप दी अपनी नई नवेली दुल्हन, नशीली दवा खिलाकर किया गैंगरेप

Also Read - सपा के शासन में जाली टोपी वाले गुंडे व्यापारियों को धमकाते थे, UP Dy CM केशव मौर्य

Also Read - रिपोर्ट में खुलासा, नई जगह पुरानी गाड़ियां खरीद रहे हैं भारतीय युवा

बजरंग दल के नेता की हत्‍या के बाद बवाल, प्रदर्शन कर रही भीड़ पर पुलिस ने भांजी लाठियां

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार नवीन कुमार दास (45) अपने परिवार के साथ इंद्रपुरी दिल्ली में रहते थे. वह इवेंट मैनेजमेंट का कार्य करते थे. गुरुवार देर रात दिल्ली जाते समय भोपुरा रोड पर उनकी कार में अचानक आग लग गयी जिसकी सूचना राहगीरों ने कॉल कर पुलिस और दमकल विभाग को दी. जब तक दमकल विभाग की गाड़ी मौके पर पहुंची, तब तक कार जलकर राख हो चुकी थी. वहीं, कार में मौजूद नवीन की भी मौत हो गयी. सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. वहीं, मामले की जांच के लिए फॉरेंसिक टीम भी मौके पर पहुंची.

उत्‍तराखंड में टैंपो ट्रेवलर 60 फुट गहरी खाई में गिरी, गुजरात के नौ तीर्थयात्रियों की मौत

हत्या की आशंका जताते हुए पुलिस को दी तहरीर

दूसरी ओर, मृतक के भाई मनोज कुमार दास ने हत्या की आशंका जताते हुए पुलिस को तहरीर दी है. उन्होंने बताया कि उनका भाई नवीन बृहस्पतिवार की दोपहर घर से छतरपुर के लिए निकला था. वहां उसे एक प्लॉट का सौदा करना था. दोपहर के समय उसने भोपुरा की डीएलएफ कॉलोनी में रहने वाली अपनी बहन को फोन पर जानकारी दी कि उसने प्लॉट का सौदा कर लिया है और पार्टी को टोकन मनी भी दे दिया है. इसके बाद से नवीन दास का फोन स्विच ऑफ आने लगा. थाना प्रभारी दिनेश यादव ने बताया कि नवीन के भाई की तहरीर पर जांच शुरू कर दी गयी है. फॉरेंसिक टीम की भी मदद ली जा रही है. इसके अलावा कॉल डिटेल के आधार पर मामले की जांच की जा रही है.