गाजियाबाद: ‘मकान मालिक की बच्ची खेलते हुए कमरे में पहुंच गई. किराए का कमरा लेकर रहने वाला कैब ड्राइवर पोर्न देखते हुए शराब पी रहा था. जैसे ही पांच साल की बच्ची पहुंची, उसने उसे कमरे में बंद कर लिया. बच्ची के साथ रेप किया और चाकू से हत्या कर दी. बच्ची का शव एक प्लास्टिक की बोरी में बंद कर बगल की छत पर छिपा दिया. इसके बाद उसके खाना खाया और चैन की नींद सो गया. जब परिजनों ने खोजना शुरू किया तो उनके साथ बच्ची की खोज कराता रहा. पुलिस के पास भी गया. फिर फरार हो गया.’ इस दरिंदगी और हैवानियत का मामला गाजियाबाद के खेड़ा में सामने आया है. पुलिस ने आरोपी कैब ड्राइवर को अरेस्ट कर लिया है. पुलिस ने भावुक होते हुए इस मामले को फास्ट ट्रैक अदालत ले जाने और ठीक तरीके से पैरवी करने की बात कही है. Also Read - हाथरस रेप केस के आरोपियों के समर्थन में करणी सेना, न्याय दिलाने को आंदोलन करेगी

Also Read - अजीब है PUBG: गेम खेलने से पिता ने किया मना, तो बेटे ने रेत डाली गर्दन

आगरा का रहने वाला कैब ड्राइवर था किराएदार Also Read - CM Yogi Suspended SDM-CO: UP में SDM, CO के सामने फायरिंग में एक व्‍यक्ति की मौत, अफसरों पर गिरी गाज

गाजियाबाद के खेड़ा इलाके के एक परिवार ने ऊपर के हिस्से का बना कमरा आगरा के रहने वाले पेशे से कैब ड्राइवर दीपक नाम के शख्स को करीब डेढ़ साल पहले दिया था. उसकी पत्नी व एक साल का बेटा भी था. बताया जा रहा है कि पिछले माह उसकी पत्नी घर मैनपुरी चली गई. 2 अगस्त को कैब ड्राइवर दीपक अपने कमरे में शराब पीते हुए पोर्न देख रहा था. इसी दौरान मकान मालिक के परिवार की 5 साल की बच्ची खेलते हुए उसके कमरे में पहुंच गई. बच्ची अक्सर छत पर खेलते हुए कमरे में चली जाती थी.

‘लड़कियों को सजा-धजाकर कार से गोरखपुर ले जाते थे, होटल में गलत काम के बाद 500-1000 रुपए देते थे’

रेप के बाद भेद खुलने के डर से की हत्या, फिर सो गया

कैब ड्राइवर ने बच्ची को कमरे में बंद कर लिया. रेप कर भेद खुल जाने के भय से बच्ची की चाकू से हत्या कर दी. बच्ची को उसने एक बोरी में बंद किया और बगल की छत पर छिपा दिया. वह खाना खाकर सो गया. परिजन उसी दिन देर रात बच्ची को तलाशते हुए कमरे में पहुंचे. उन्होंने कैब ड्राइवर से भी पूछा. तलाश के बाद परिजन पुलिस के पास गए. कैब ड्राइवर भी पुलिस स्टेशन साथ गया.

अपराध के बाद परिजनों के साथ घूमता रहा

तीन अगस्त को वह दिल्ली गया. चार अगस्त को भी कैब चलाई. चार अगस्त को ही बच्ची का शव छत से बरामद कर लिया. पुलिस ने कैब ड्राइवर के कमरे से शराब की बोतल, चाकू बरामद कर लिया. पुलिस के अनुसार, वह मामले पर टीवी के जरिए नजर रख रहा था. जब उसका नाम सामने आया तो वह दिल्ली से बुलंदशहर फरार हो गया. इसके बाद वह फिर से दिल्ली जा रहा था, लेकिन इससे पहले ही पुलिस ने उसे अरेस्ट कर लिया.

फरीदाबाद: 4 साल की बच्ची से रेप, हत्या कर लाश को कंटेनर में छिपाया

पुलिस ने कहा- फास्ट ट्रैक कोर्ट में ले जाएंगे मामला

एसएसपी वैभव कृष्ण ने बताया कि आरोपी को अरेस्ट कर लिया गया है. पुलिस इस मामले को फ़ास्ट ट्रैक कोर्ट ले जाएगी और पूरी सजगता से पैरवी करेगी. आरोपी को कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जाएगी. वहीं, बच्ची की रेप के बाद हत्या से परिजन सदमे में हैं. कोर्ट ले जाए जाने के दौरान उन्होंने आरोपी को पीट भी दिया. किसी तरह परिजनों को शांत किया गया.