नई दिल्ली: हर घर में शौचालय निर्माण के अभियान को सफल बनाने की दिशा में अनूठी पहल करते हुए सम्भल जिला प्रशासन ने करवाचौथ के अवसर पर पत्नी के लिए उपहार स्वरूप शौचालय का निर्माण करवाने पतियों को सम्मानित करने का ऐलान किया है. Also Read - महिला कर्मचारियों की शिकायत सुनते ही मंत्री जी खुद जुट गए टॉयलेट की सफाई करने में

सम्भल के मुख्य विकास अधिकारी प्रेम प्रकाश त्रिपाठी ने गत छह अक्तूबर को जिले के सभी खण्ड विकास अधिकारियों को जारी आदेश में कहा है कि सभी ग्राम प्रधान तथा ग्राम पंचायत सचिव अपने-अपने गांव में शौचालय विहीन परिवारों को चिन्हित करें. उन परिवारों के मुखिया को प्रेरित करें कि वह इस करवाचौथ पर अपनी पत्नियों को शौचालय का निर्माण करा कर उन्हें तोहफे में दें. Also Read - Coronavirus In MP Update: आदिवासी परिवार स्कूल के टॉयलट में क्वारंटीन, सोशल मीडिया पर तस्वीर हो रही वायरल

उन्होंने आदेश में कहा कि जो पति इस करवाचाौथ पर छह अक्तूबर से 11 अक्तूबर के बीच अपनी पत्नियों के लिए शौचालय का निर्माण करवाएंगे उन्हें जिला प्रशासन की ओर से एक गोष्ठी आयोजित कर सम्मानित किया जाएगा. Also Read - केरल के मंदिर में ‘केवल ब्राह्मणों के लिए’ शौचालय को लेकर विवाद, हटाया गया बोर्ड

मुख्य विकास अधिकारी ने बताया कि आज भी समाज में खुले में शौच जाने के रूप में बड़ी कुरीति मौजूद है. करवाचौथ महिलाओं का महत्वपूर्ण पर्व है। इसमें महिलाएं अपने पति की लम्बी उम्र के लिये व्रत रखकर कामना करती हैं. ऐसे में उन महिलाओं के पतियों द्वारा उन्हें शौचालय बनवाकर देना, बहुत बड़ा उपहार होगा.

उन्होंने बताया कि छह से 11 अक्तूबर के बीच जो लोग अपने घर में शौचालय का निर्माण कराएंगे उन्हें जनपद स्तर पर सार्वजनिक रूप से जिलाधिकारी भी सम्मानित करेंगे.