लखनऊ: उत्तर प्रदेश में बेरोजगार युवाओं के लिए खुशखबरी है. जल्द ही राजस्व परिषद में लेखपाल के खाली करीब 4 हजार पदों पर भर्ती प्रक्रिया शुरू होने वाली है. बताया जा रहा है कि राजस्व विभाग में भर्ती प्रक्रिया पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मुहर लगा दी है. Also Read - हैंड सैनिटाइजर की कमी अब होगी पूरी, यूपी के चीनी मिलों को मिला यह काम

कैबिनेट की मंजूरी के बाद राजस्व परिषद भर्ती के संबंध में आयोग को प्रस्ताव भेजेगा. राजस्व परिषद से लेकर इन भर्तियों का अधिकार उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग को दे दिया गया है. प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने के बाद उच्च स्तर पर राजस्व परिषद से इन भर्तियों का अधिकार लेकर उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग को देने का विचार हुआ. राजस्व परिषद ने इसके आधार पर प्रस्ताव बनाते हुए मुख्यमंत्री के पास मंजूरी के लिए भेजा. Also Read - मनीष सिसोदिया का बयान, कहा-कोविड-19 पर ‘‘ओछी’’ राजनीति कर रही है भाजपा 

Rajasthan: महिला स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के 5602 पदों पर बंपर भर्तियां, पढ़ें योग्यताएं Also Read - CM योगी ने दूसरे राज्‍यों से की अपील, यूपी के लोगों के खाने-रहने की व्‍यवस्‍था करें, हम खर्च देंगे

कंप्यूटर की जानकारी होना अनिवार्य
बता दें कि इसमें कुछ जरूरी संशोधन के साथ लेखपाल पद की अर्हता के साथ कंप्यूटर की जानकारी होना अनिवार्य कर दिया गया. इसके बाद भी यह तय नहीं हो सका कि भर्ती राजस्व परिषद करेगा या फिर अधीनस्थ सेवा चयन आयोग. राजस्व विभाग ने इस संबंध में नए सिरे से प्रस्ताव तैयार किया. इसमें लेखपाल भर्ती के लिए कंप्यूटर की अर्हता जोड़ते हुए अधीनस्थ सेवा चयन आयोग से कराने का प्रस्ताव भेजा गया.