लखनऊ: बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती ने शनिवार को कहा कि केन्द्र और राज्य सरकारें अपने शाही खर्चे में कटौती कर व्यापक जनहित में बच्चों की स्कूल फीस माफ करें. Also Read - IPL 2020 CSK vs DC: जानें कैसे मिली श्रेयस अय्यर को MS Dhoni पर बड़ी जीत, ये है 5 बड़े कारण

बसपा प्रमुख ने ट्वीट किया, ‘‘कोरोना लॉकडाउन से संक्रमित देश की आर्थिक मन्दी से भीषण बेरोजगारी व जीवन में अभूतपूर्व संकट झेल रहे करोड़ों लोगों के सामने बच्चों के फीस जमा करने की समस्या संगीन होकर अब धरना-प्रदर्शन आदि के रूप में सामने आई है व उन्हें पुलिस के डण्डे खाने पड़ रहे हैं, जो अति-दुःखद.’ Also Read - NCB फैशन परेड करा है, CBI ने आज तक कोई भी प्रेस ब्रीफिंग नहीं की: सुशांत की फैमिली के वकील

उन्होंने दूसरे ट्वीट में कहा, ‘ऐसे ‘एक्ट ऑफ गॉड’ के समय में संवैधानिक मंशा के अनुरूप सरकार की कल्याणकारी राज्य होने की भूमिका खास तौर से काफी बढ़ जाती है. केन्द्र व राज्य सरकारें अपने शाही खर्चे में कटौती करके सरकारी व प्राइवेट स्कूल फीस की प्रतिपूर्ति करें अर्थात व्यापक जनहित में बच्चों की स्कूल फीस माफ करें.’ Also Read - IPL 2020 CSK vs DC: चेन्नई की लगातार दूसरी हार के बाद धोनी ने बल्लेबाजों पर निकाला गुस्सा, बोले- अगले मैच में...

(इनपुट भाषा)