हापुड़: हापुड़ की महिलाओं पर बनी फिल्म ‘पीरियड एंड ऑफ सैंटेंस’ को अमेरिका में ‘सर्वश्रेष्ठ वृत्तचित्र’ श्रेणी में ऑस्कर पुरस्कार मिलने से शहर में खुशी का माहौल है. इस फिल्म में हापुड़ के गांव काठीखेड़ा की दो महिलाओं ने अभिनय किया है.Also Read - मौसम विभाग का ताजा अलर्ट, दिल्‍ली, हरियाणा, वेस्‍ट यूपी समेत कई जगह गरज-चमक बारिश का अनुमान

काठीखेड़ा निवासी सुमन ‘एक्शन इंडिया’ के नाम से एनजीओ चलाती हैं जो कि सेनेट्री पेड बनाती है. इसमे महिलाएं ही काम करती है. इन महिलाओं को लेकर भारतीय फिल्म निर्माता गुनीत मोंगा ने फिल्म बनाई. फिल्म में उन महिलाओं की कहानी जो मासिक धर्म से जुड़ी रूढ़िवादिता के खिलाफ आवाज बुलंद करती है. Also Read - Weight Gain During Period: अगर पीरियड्स के दौरान बढ़ता है आपका वजन, तो जानें आखिर क्या है इसकी वजह

Also Read - कोरोना से बचने के लिए पेड़ पर बना लिया घर, खाना-सोना सब ऊपर ही, बोले- मज़ा आ रहा है

इस फिल्म के ऑस्कर पुरस्कार के लिए चयनित होने के बाद सुमन और स्नेहा को पुरस्कार के लिए अमेरिका बुलाया गया. उन्हें सोमवार को पुरस्कार से नवाजा गया. सुमन के भाई सुमित वर्मा ने बताया कि सुमन और स्नेहा 2 मार्च को अमेरिका से भारत लौटेंगी. उनके लौटने पर उनका भव्य स्वागत किया जाएगा.