Hathras victim family Demands and Questions: उत्तर प्रदेश के हाथरस कांड पर राजनीति गरमाई हुई है. योगी सरकार ने इस मामले में एसपी समेत कई पुलिसवालों पर गाज गिराई है. सरकार की ओर से लगातार मामले को निपटाने का प्रयास जारी है. लेकिन राजनीति अभी उबाल पर है. कांग्रेस नेता राहुल गांधी प्रियंका के साथ पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे. इस दौरान प्रियंका ने पीड़िता की मां को गले लगा कर ढांढस बढ़ाया और कहा कि इस संकट की घड़ी में कांग्रेस आपके साथ है.Also Read - 12 दिसंबर को दिल्ली में होगी कांग्रेस की ‘महंगाई हटाओ रैली’, सोनिया और राहुल करेंगे संबोधित

पीड़िता के परिवार से मिलने के बाद प्रियंका गांधी ने परिवार के प्रश्न शेयर किए हैं. उन्होंने 5 प्वाइंट में लिखकर पीड़िता के परिवार के सवाल और उनकी मांगों के बारे में बताया है. प्रियंका ने लिखा- Also Read - Rajasthan Cabinet Reshuffle: गहलोत की नई कैबिनेट से सचिन पायलट खुश, कहा-सारी कमी अब पूरी हो गई

हाथरस के पीड़ित परिवार के प्रश्न:

1. सुप्रीम कोर्ट के जरिए पूरे मामले की न्यायिक जाँच हो
2. हाथरस DM को सस्पेंड किया जाए और किसी बड़े पद पर नहीं लगाया जाए
3. हमारी बेटी के शव को बगैर हमसे पूछे पेट्रोल से क्यों जलाया गया?
4. हमें बार-बार गुमराह किया, धमकाया क्यों जा रहा है? 1/2
5. हम इंसानियत के नाते चिता से फूल चुनकर लाए मगर हमें कैसे माने कि यह शव हमारी बेटी का है भी या नहीं? Also Read - प्रियंका गांधी ने कहा- PM मोदी लखीमपुर केस के आरोपी के मंत्री पिता के साथ मीटिंग न करें, ये किसानों का अपमान है

प्रियंका ने कहा कि इन प्रश्नों के उत्तर पाना इस परिवार का हक है और उत्तर प्रदेश सरकार को ये जवाब देना पड़ेगा. प्रियंका के अलावा राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कि वे इस मुश्किल वक़्त में उनके साथ खड़े हैं और उन्हें न्याय दिलाने में पूरी मदद करेंगे. उन्होंने लिखा, “मैं हाथरस के पीड़ित परिवार से मिला और उनका दर्द समझा. मैंने उन्हें विश्वास दिलाया कि हम इस मुश्किल वक़्त में उनके साथ खड़े हैं और उन्हें न्याय दिलाने में पूरी मदद करेंगे. UP सरकार चाह कर भी मनमानी नहीं कर पाएगी क्यूँकि अब इस देश की बेटी को इन्साफ़ दिलाने पूरा देश खड़ा है.”

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ ने हाथरस कांड के प्रकरण की जांच सीबीआई से कराने की अनुशंसा की है. मुख्यमंत्री कार्यालय के ट्वीटर हैंडल से इस बात की जानकारी दी गयी. उसमें लिखा है कि मुख्यमंत्री योगी ने सम्पूर्ण हाथरस प्रकरण की जांच सीबीआई से कराने की अनुशंसा की है. हाथरस प्रकरण में लगातार राजनीति गरमा रही है.

इससे पहले कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रियंका वाड्रा दोबारा हाथरस जाने की कोशिश करने के लिए दिल्ली से निकले थे. राहुल और प्रियंका के अलावा अन्य कांग्रेस नेताओं को पुलिस ने डीएनडी पर रोक लिया गया. उसके बाद सिर्फ पांच लोगों को राहुल गांधी, प्रियंका वाड्रा, रणदीप सुरजेवाला, गुलाम नबी आजाद और केसी वेणुगोपाल को हाथरस जाने की इजाजत दी गई.

(इनपुट आईएएनएस)