लखनऊ/बहराइच: उत्तर प्रदेश में बहराइच जिले में तहसीलदार से मारपीट करने वाले पूर्व विधायक दिलीप वर्मा को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. दिलीप वर्मा की पत्नी माधुरी वर्मा भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की नानपारा सीट से विधायक हैं. पूर्व विधायक दिलीप वर्मा को पुलिस ने शनिवार की देर शाम गिरफ्तार किया. दिलीप वर्मा को बहराइच से लखनऊ जाते समय गिरफ्तार किया गया. पूर्व विधायक की उम्र को देखते हुए पुलिस उन्हें मेडिकल परीक्षण के लिए जिला अस्पताल ले गई जहां से डाक्टरों ने उन्हें लखनऊ रेफर कर दिया. Also Read - यूपी में एनकाउंटरः सिपाही हर्ष चौधरी शहीद, हिस्ट्रीशीटर बदमाश भी ढेर

Also Read - यूपी सरकार लंबे समय तक कोमा में रहने वाले पुलिसकर्मियों के आश्रितों को देगी पेंशन

बीजेपी विधायक के पति की गुंडागर्दी, तहसीलदार को चैम्बर में घुसकर पीटा, एफआईआर Also Read - गाजियाबाद: गोली मारकर प्रॉपर्टी डीलर की हत्या, कार में पड़ा था खून से लथपथ शव

तहसीलदार से मारपीट का वीडियो वायरल

बहराइच के पुलिस अधीक्षक डॉ. गौरव ग्रोवर ने रविवार को जानकारी देते हुए बताया कि, नानपारा विधानसभा सीट से भाजपा की मौजूदा विधायक माधुरी वर्मा के पूर्व विधायक पति दिलीप वर्मा को शनिवार की देर शाम पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया और गिरफ्तारी के बाद तबियत खराब होने की शिकायत पर पूर्व विधायक को सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया. उन्होंने बताया कि भाजपा की विधायक माधुरी वर्मा के पति और महसी सीट से समाजवादी पार्टी के पूर्व विधायक दिलीप वर्मा ने शुक्रवार को कथित रूप से समर्थकों के साथ नानपारा के तहसील में तैनात दलित तहसीलदार मधुसूदन लाल आर्या के सरकारी कक्ष में घुसकर मारपीट की थी और इसके बाद सैकड़ों समर्थकों के साथ कोतवाली के सामने सड़क जाम कर यातायात प्रभावित किया था. तहसीलदार से मारपीट का वीडियो वायरल हो गया था. शनिवार को भाजपा की बाइक रैली में भी आरोपी विधायक ने हिस्सा लिया था.

यूपी: रेलमंत्री पीयूष गोयल का जमकर विरोध, फ्लीट के आगे कूदे रेलकर्मी, अधिवेशन छोड़ लौटना पड़ा

नानपारा चीनी मिल के जीएम से भी कर चुके हैं मार-पीट

पुलिस अधीक्षक ग्रोवर ने बताया कि उनके खिलाफ दलित तहसीलदार के साथ मारपीट करने के अलावा पुलिसकर्मियों से अभद्रता और गैर कानूनी ढंग से सड़क जाम करने के दो अलग-अलग मुकदमे दर्ज किए गए हैं. इन्हीं मामलों में पूर्व विधायक की गिरफ्तारी हुई है. बता दें कि तहसीलदार की पिटाई के बाद नानपारा कोतवाली के सीओ पर हमला करने के मामले में पूर्व विधायक समेत 3 लोगों के खिलाफ नामजद व उनके 250 अज्ञात समर्थकों के खिलाफ मामला दर्ज किया है. 8 माह पूर्व नानपारा चीनी मिल के जीएम प्रदीप त्रिपाठी व सुरक्षाकर्मियों के साथ चीनी मिल के गेट पर पूर्व विधायक और उनके समर्थकों ने मारपीट की थी. इस मामले में जीएम ने विधायक के खिलाफ नानपारा कोतवाली में शिकायत दर्ज कराई थी लेकिन उस समय पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार नहीं किया था.