नई दिल्ली: आने वाले दिनों में यूपी की सियासत में एक बड़ा बदलाव देखने को मिल सकता है. माना जा रहा है कि अब जल्द ही उत्तर प्रदेश को एक और उपमुख्यमंत्री मिल सकता है. मौजूदा समय में यूपी में केशव प्रसाद मौर्य और दिनेश शर्मा दो उपमुख्यमंत्री है लेकिन अब ऐसी सियासी खबरे सामने आ रही हैं कि जल्द ही राज्य को तीसरा मुख्यमंत्री मिल सकता है. प्रदेश में तीसरे डिप्टी सीएम को लेकर अटकलें तेज हो गई है. Also Read - यूपी में अब एक क्लिक पर मिलेगी रोजगार की जानकारी, युवाओं को नहीं पड़ेगा भटकना

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इस बार जिनकों डिप्टी सीएम बनाया जा सकता है वे पीएम मोदी के खास आफिसरों में से एक हैं. बताया जा रहा है कि आईएएस ऑफीशिर अरविंद कुमार शर्मा को यूपी का तीसरा डिप्टी सीएम चुना जा सकता है. इस खबर ने तब और जोर पकड़ लिया जा उन्होंने वीआरएस ले लिया. अरविंद शर्मा का कार्यकाल अभी दो साल बचा हुआ था लेकिन उन्होंने बीच में सोमवार को वीआरएस ले लिया. Also Read - भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा पहुंचे लखनऊ, सीएम ने एयरपोर्ट पर किया स्वागत, कैबिनेट विस्तार पर बन सकती है रणनीति

खबरों की मानें तो अरविंद कुमार जल्द ही भाजपा में शामिल हो सकते हैं और उन्हें पार्टी में आने वाले विधान सभा चुनाव के मद्देनजर यूपी में एक बड़ी जिम्मेदारी सौपी जा सकती है. Also Read - भाजपा में शामिल होने के 24 घंटे के अंदर ही पूर्व IAS अरविंद शर्मा यूपी विधान परिषद के लिए नामित

एके शर्मा के अचानक नौकरी से वीआरएस लेने से हर कोई सक्ते में हैं और अंदाजा लगाया जा रहा है कि सरकार में उन्हें डिप्टी सीएम तक का पद ऑफर किया जा सकता है. इसका एक बड़ा कारण यह भी है कि अरविंद शर्मा मूल रूप से यूपी के काजाखुर्द मऊ से संबंध रखते हैं. अरविंद शर्मा का जन्म 11 अप्रैल 1962 को काजा खुर्द में में हुआ था.