बहराइच (उप्र): बहराइच जिले में भारत-नेपाल के सीमावर्ती रुपईडीहा इलाके में गत सोमवार को अज्ञात महिला की सिर कटी लाश मिलने के मामले का पर्दाफाश कर पुलिस ने सऊदी अरब में रह रहे उसके पति सहित ससुराल के पांच लोगों को आरोपी बनाते हुए उनमें से तीन को गिरफ्तार कर लिया है. Also Read - गाजियाबाद में खुला UP-NCR का पहला 'फोन बूथ', 5 मिनट में होगी कोरोना की जांच

पुलिस अधीक्षक विपिन मिश्रा ने बताया कि रूपईडीहा थाना क्षेत्र के नेपाल से सटे अड़गोड़वा गांव में एक महिला की सिर कटी लाश गत 9 मार्च को बरामद हुई थी. उसकी पहचान रिसिया थाना क्षेत्र के इटकौरी गांव की निवासी हसरीन के रूप में की गई है. उन्होंने बताया कि मृतका का पति रियाज अली तीन साल से सऊदी अरब में रह रहा है. महिला की अपने पति और ससुराल वालों से अनबन थी और वह अपने मायके में थी. रियाज तलाक लेकर दूसरी शादी की फिराक में था लेकिन हसरीन तलाक के लिए तैयार नहीं थी. Also Read - पीएम मोदी के प्रयासों और उपायों के कारण कोरोना भारत में दूसरे स्टेज पर ही रूका : योगी आदित्यनाथ

मिश्रा ने बताया कि रियाज ने हसरीन से छुटकारा पाने के इरादे से विदेश से ही अपने पिता, मां और भाइयों के साथ मिलकर उसकी हत्या की साजिश रची थी. हत्या की नीयत से रियाज ने अपने भाई मेराज को मुम्बई से बहराइच भेजा और पत्नी हसरीन को फोन करके मेराज के साथ ससुराल जाने को राजी कर लिया. पुलिस अधीक्षक ने बताया कि ससुराल जाते समय रास्ते में मृतका के ससुर सादिक अली और सादिक का भतीजा नन्हे उनके साथ हो लिए और मौका देखकर अड़गोड़वा में हसरीन की चाकू से गला काटकर हत्या कर दी. पहचान छिपाने की नीयत से आरोपियों ने उसका सिर सरयू नहर में फेंक दिया. Also Read - coronavirus cases in uttar pradesh: सामने आए 30 नए मामले, 26 तबलीगी जमात से जुड़े लोग, आगे बढ़ सकता है लॉकडाउन

इस मामले में हसरीन के पति रियाज, देवर मेराज, ससुर सादिक अली, सादिक अली के भतीजे नन्हे और सास सायरा को आरोपी बनाया गया है. अभियुक्तों की निशानदेही पर आला कत्ल बरामद कर सादिक, मेराज और नन्हे को गिरफ्तार कर लिया गया है. मिश्रा ने बताया कि हसरीन की सास सायरा और सऊदी अरब में रह रहा उसका पति रियाज फरार हैं. दोनों की तलाश की जा रही है.