मेरठः उत्तर प्रदेश के मेरठ मंडल के बुलंदशहर जनपद में भीषण सड़क हादसे में नरौरा के गांधी गंगा घाट के समीप सड़क किनारे सो रहे सात श्रद्धालुओं की बस से कुचल कर मौत हो गई. आज तड़के हुए इस हादसे में मरने वालों में तीन बच्चे और चार महिलाएं हैं. सभी श्रद्धालु वैष्णो देवी के दर्शन करके लौट रहे थे.

गबन के आरोप में फोर्टिस के पूर्व प्रमोटर मालविंदर सिंह को पुलिस ने किया गिरफ्तार

एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने बताया कि हाथरस जिले के थाना चंदपा क्षेत्र निवासी फूलवती का परिवार कुछ ग्रामीणों और रिश्तेदारों के साथ बस से तीर्थयात्रा पर निकला था. वैष्णो देवी से दर्शन कर लौट रहे सभी यात्री शुक्रवार तड़के नरौरा के गांधी गंगा घाट पर पहुंचे थे. यात्री वहीं पर बस से उतर कर सड़क किनारे सो गए.

गोरखपुर की आयेशा खान बनी एक दिन के लिए ब्रिटेन की हाई कमिश्नर

सुबह लगभग चार बजे तीर्थ यात्रियों से भरी एक दूसरी बस ने सड़क किनारे सो रहे यात्रियों को कुचल दिया. घटना के बाद आरोपी बस चालक मौके से फरार हो गया. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घटना पर शोक जताया है और सभी मृतकों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये देने की घोषणा की है. एसएसपी के अनुसार मरने वाले सभी एक ही परिवार से हैं.

इस घटना में जो लोग मारे गए हैं उनके नाम फूलवती(65), माला देवी (32), शीला देवी (35), योगिता (5), कल्पना (4), रेनू (22) और संजना(4) हैं. पुलिस ने बताया कि आरोपी चालक की तलाश जारी है और जल्द ही उसे पकड़ लिया जाएगा.