लखनऊ: नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने भगवान राम और अयोध्या को लेकर विवादित बयान दिया था. इस बाबरी मस्जिद के पक्षकार रहे इकबा अंसारी ने केपी शर्मा ओली को करारा जवाब दिया है. अंसारी ने कहा कि अगर रामभक्त हनुमान को गुस्सा आ गया तो नेपाल का पता नहीं चलेगा. उन्होंने कहा कि अयोध्या का सम्मान आज से नहीं बल्कि पुरातन काल से लोग करते आ रहे हैं. दुनियाभर के लोग अयोध्या का सम्मान करते हैं. अयोध्या एक धर्म की नगरी है. यहां सभी धर्म व जाति के देवी देवताओं की मौजूदगी है. Also Read - यूपी: 72 मामले के आरोपी विधायक विजय मिश्रा, MLC पत्‍नी और बेटे के खिलाफ FIR दर्ज

अंसारी ने आगे कहाकि अयोध्या का महत्व नेपाल के प्रधानमंत्री को नही पता. अयोध्या में भगवान राम के साथ हनुमान जी भी थे. अगर हनुमान जी को गुस्सा आ गया तो नेपाल का कहीं भी पता नहीं चलेगा कि वह कहां गया. अंसारी ने ओली पर निशाना साधते हुए कहा कि नेपाल में हिंदू विरोधी कार्य किए जाते हैं. नेपाल के प्रधानमंत्री अयोध्या के बारे में नहीं जानते हैं. अंसारी ने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर भगवान श्रीराम तथा अयोध्या को गलत कहने का अंजाम बहुत बुरा होगा. Also Read - राममय हो जाएगी अयोध्या, कायाकल्प की तैयारी, हर जगह होंगे बस राम ही राम, जानें पूरा Plan

बता दें कि बीते काफी दिनों से नेपाल के प्रधानमंत्री ओली भारत के खिलाफ लगातार बयान दे रहे थे. इस बीच ओली ने बताया कि असल अयोध्या नेपाल में है ना कि भारत में. वहीं भगवान राम को लेकर भी ओली द्वारा बेतुका तर्क दिया गया था. बता दें कि इसके बाद ओली ने एक ट्वीट करते हुए लोगों से माफी भी मांगी. साथ ही कहा कि उनका मकसद लोगों की भावनाओं को ठेस पहुंचाना नहीं था. Also Read - नागिन का बदला: नाग पंचमी के दिन सांप की हत्या, नागिन ने अब तक 26 को डसा!