लखनऊ: उत्तर प्रदेश शिया वक्फ बोर्ड ने स्वतन्त्रता दिवस पर राष्ट्रगान के बाद ‘भारत माता की जय’ का नारा लगाने का निर्देश जारी किया है. केन्द्रीय शिया वक्फ बोर्ड की सभी वक्फ सम्पत्तियों के केयरटेकर और समितियों को जारी इन निर्देशों में वक्फ बोर्ड ने स्पष्ट किया है कि अगर ऐसा नहीं किया गया तो उनके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी. ‘भारत माता की जय’ का नारा लगाना तिरंगा फहराना और राष्ट्रगान गाना भी जरूरी बताया गया है. Also Read - Independence Day: विवाद है अपनी जगह, चीन-नेपाल ने भी दी भारत को बधाई, PM मोदी बोले...

Also Read - Independence Day: बेटियों की शादी की उम्र में हो सकता है बड़ा बदलाव, PM मोदी ने दिए संकेत

बहुत से धर्मगुरु बच्चों को देश का अपमान करना सिखाते हैं ! Also Read - Independence Day 2020: पैंगोंग त्सो झील के किनारे ITBP के जवानों का जश्न, देखें जोशीला VIDEO

उत्तर प्रदेश शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी ने कहा कि समुदाय में ऐसे बहुत से धर्मगुरु हैं जो अशिक्षा का फायदा उठाकर बच्चों को देश का अपमान करना सिखाते हैं. हम इसे बर्दाश्त नहीं करने वाले. स्वतन्त्रता दिवस का दिन हम सभी के लिए गर्व का दिन है और हम चाहते हैं कि इसे सारे शैक्षणिक संस्थानों में मनाया जाए.

विकास में अवरोध पैदा कर रही भाजपा का संकल्प, यूपी को उजाड़ कर ही लेंगे दम: अखिलेश

उन्होंने आगे कहा कि हमने केन्द्रीय शिया वक्फ बोर्ड के अन्तर्गत आने वाले अभी मदरसा, स्कूल और कॉलेज के केयरटेकर और समितियों को निर्देश दिए हैं कि ध्वजारोहण और राष्ट्रगान जरूर गाया जाए. उसके बाद देश के लिए देशभक्ति दिखाते हुए ‘भारत माता की जय’ का नारा भी लगाया जाए. अगर ऐसा नहीं किया गया तो हम कानूनी कार्यवाही करेंगे.

उत्तर प्रदेश शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी के इस फैसले पर कुछ अन्य धर्मगुरुओं का कहना है कि मुल्क के लिए अपना प्यार दिखाते हुए सभी को राष्ट्रगान भी गाना चाहिए और ध्वजारोहण में भी आदर के साथ भाग लेना चाहिए. लेकिन इसलिए किसी को बाध्य किया जाना सही नहीं है.

सेन्ट्रल शिया वक्फ बोर्ड ने नहीं मनाई ईद, पाकिस्तान का झंडा जलाया