लखनऊ: संसद में पिछले दिनों पारित किसान विधेयकों को लेकर विपक्ष के तीखे विरोध के बीच बसपा मुखिया मायावती ने गुरुवार को कहा कि केंद्र सरकार किसानों को भरोसे में लेकर निर्णय लेती तो बेहतर होता.Also Read - UP Election 2022: अपर्णा यादव पर चढ़ा भगवा रंग | BJP ने दल-बदल का खेला मास्टर स्ट्रोक

मायावती ने एक ट्वीट में कहा ‘बसपा ने उत्तर प्रदेश में अपनी सरकार के दौरान कृषि से जुड़े अनेक मामलों में किसानों की कई पंचायतें बुलाकर उनसे समुचित विचार-विमर्श करने के बाद ही उनके हितों में फैसले लिए थे. यदि केंद्र सरकार भी किसानों को विश्वास में लेकर ही निर्णय लेती तो बेहतर होता.’ Also Read - UP विधानसभा चुनाव पर Zee Opinion Poll की बड़ी बातें, 10 प्वाइंट में जानें सबकुछ...

Also Read - Zee News Opinion Poll: जानें अखिलेश यादव को यूपी की कितने प्रतिशत जनता देखना चाहती हैं मुख्यमंत्री

बता दें कि गत रविवार को राज्यसभा में विपक्षी सदस्यों के कड़े विरोध के बीच किसानों से जुड़े दो विधेयक पारित किए गए थे. विपक्षी दल संसद से इन विधेयकों को किसानों के हितों पर कुठाराघात करार देते हुए इनका विरोध कर रहे हैं.