जौनपुर: यूपी के जौनपुर जिले के परानापट्टी गांव में अजीबोगरीब घटना सामने आई है. दुल्हन के घर बरात पहुंची. खाना हुआ. लोगों ने मस्ती की. जयमाल हुई. सात फेरे भी हो गए. शादी की लगभग सभी रस्में हो गईं. इसके बाद दूल्हे को मंडप में ही कुछ नोट गिनने को दिए. दूल्हा ठीक से नोट नहीं गिन पाया. इसके बाद जो हुआ वो दूल्हा पक्ष के लिए बिलकुल ठीक नहीं रहा.Also Read - Uttar Pradesh News: बुलंदशहर में पूर्व ब्लॉक प्रमुख के काफिले पर दिनदहाड़े गोलीबारी, एक की मौत

Also Read - शादी का झांसा देकर दरोगा ने किया विधवा का बलात्कार, 2019 से बना रहा था यौन संबंध; अब पुलिस ने...

दूल्हे ने फेसबुक पर देखी दुल्हन की साड़ी-सिंदूर वाली तस्वीर, शादी से किया इनकार, आज आनी थी बारात Also Read - सुहागरात पर दूल्हे ने दोस्तों को सौंप दी अपनी नई नवेली दुल्हन, नशीली दवा खिलाकर किया गैंगरेप

मंडप में गिनने को दिए नोट, दूल्हा हुआ फेल

जौनपुर के थाना क्षेत्र के परानापट्टी गांव में निवासी जमुना प्रसाद यादव के घर में ढोल नगाड़े बज रहे थे. बारात सरायखाजा थाना क्षेत्र के हमजापुर गांव से आई थी. बारात घर पहुंची. सभी रस्में पूरी हो गईं. सात फेरे भी हो गए. दूल्हा-दुल्हन मंडप में थे. इसी दौरान दूल्हे को लोगों ने कुछ रुपए गिनने को दिए, लेकिन दूल्हा ठीक तरह से नोट नहीं गिन पाया. ये देख दुल्हन नाराज हो गई. उसने दूल्हा को अनपढ़ बताते हुए विदाई से इनकार कर दिया.

मंडप में दूल्हे को दुल्हन ने बताया बदसूरत, कहा- नहीं करूंगी शादी, फिर हुआ ये

सात फेरे हुए फिर भी दुल्हन नहीं गई ससुराल

सात फेरे हो चुके थे, ऐसे में विदा होने से इनकार कर देने पर लोग हैरत में पड़ गए. लोग असमंजस में थे कि क्या किया जाए. इसी बीच दूल्हा पक्ष का इस बात को लेकर झगड़ा हो गया. बात इतनी बढ़ी कि दुल्हन पक्ष ने बारातियों को बंधक बना लिया. बात बढ़ने पर पुलिस को बुलाना पड़ा. पुलिस ने बारातियों को छुड़ाया. पुलिस ने दोनों पक्षों को समझाने की कोशिश की, लेकिन दुल्हन जाने को तैयार नहीं हुई. पूरी रात पंचायत चली. फिर भी दूल्हे को फेरों के बाद भी दुल्हन के बिना ही वापस लौटना पड़ा.