लखनऊ: कर्नाटक विधानसभा चुनाव के बाद अब यूपी में सियासी पारा गरमाने लगा है. यूपी में कैराना के लोकसभा उपचुनाव में आज मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ और उप मुख्‍यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य एक साथ प्रचार करेंगे. उनकी ये जनसभा अम्‍बेहटा पीर में होगा, जो कि सहारनपुर जिले के गंगोह विधानसभा क्षेत्र में आता है. इसके अलावा बीजेपी प्रदेश अध्‍यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय भी कैराना में पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बैठकर चुनावी रणनीति तय करेंगे. उधर, 24 मई को नूरपुर विधानसभा क्षेत्र में होने वाले उपचुनाव के लिए भी मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ प्रचार करेंगे. Also Read - शिवराज मंत्रिमंडल का हो गया विस्तार, 20 कैबिनेट और 8 राज्यमंत्री शामिल

Also Read - आज होगा शिवराज मंत्रिमंडल का विस्तार, असंतोष को दबाने की कवायद शुरू

कैराना, नूरपुर उपचुनाव में खिलेगा कमल, सपा-बसपा का जातिगत गठजोड़ नहीं होगा कामयाब : भाजपा Also Read - प्रियंका गांधी को खाली करना होगा सरकारी बंगला, केंद्र सरकार ने एक महीने का समय दिया

बीजेपी के पदाधिकारियों ने बताया कि मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री गाजियाबाद के हिंडन हवाई पट्टी से हेलीकॉप्टर के जरिए 12 बजे के करीब अम्बेहटा पीर के लिए प्रस्थान करेंगे और 12 बजकर 55 मिनट पर वहां पहुंचेंगे. एक से सवा दो बजे तक अम्बेहटा पीर में उनकी जनसभा है. जनसभा के बाद दोनों नेता वापस तीन बजे गाजियाबाद के हिंडन हवाई पट्टी पहुंचेंगे. वहां से लखनऊ लौट जाएंगे. इसके अलावा बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष डॉ. महेंद्र नाथ पांडेय आज दोपहर को रजवाड़ा में एक बैठक को भी संबोधित करेंगे. इसके अलावा शाम पांच बजे हनुमान टीला पर कार्यकर्ताओं से चाय पर चर्चा करेंगे और रात्रि साढ़े नौ बजे शामली के एक होटल में प्रमुख कार्यकर्ताओं के साथ बैठक करेंगे.

2019 से पहले सीएम योगी की एक और परीक्षा, इस दिन होगी कैराना उप चुनाव के लिए वोटिंग

बीजेपी की मृगांका चुनाव मैदान में

बता दें कि कैराना उपचुनाव के लिए बीजेपी की तरफ से मृगांका चुनावी मैदान में हैं. बीजेपी प्रत्याशी के समर्थन में मंगलवार को होने वाली मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की रैली में भारी भीड़ जुटने की संभावना है. बता दें कि चुनाव मैदान में विपक्ष के एकजुट होने के बाद बीजेपी की यह पहली रैली हो रही है. ऐसे में बीजेपी पदाधिकारी मुख्‍यमंत्री की जनसभा की तैयारियों में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रहे हैं.

गोरखपुर-फूलपुर में हार बाद सीएम योगी का बड़ा इम्तिहान

गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा के लिए हुए उपचुनाव में बीजेपी की हार के बाद कैराना उपचुनाव पार्टी रह हाल में जीतना चाहती है. कैराना सीट मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ की प्रतिष्‍ठा का सवाल भी बन गई है. ऐसे में बीजेपी नहीं चाहेगी कि पार्टी की ओर से कैरान चुनाव में कोई कोर कसर छोड़ी जाए. इसके लिए पार्टी आलाकमान ने चुनाव प्रचार में तेजी लाने के निर्देश भी दिए हैं.