लखनऊ: हिन्दू संगठन के नेता कमलेश तिवारी के कथित दोनों हत्यारों ने उन पर सिर्फ गोली ही नहीं चलाई बल्कि उन पर लगातार बर्बरता से चाकू से वार भी किए. 45 वर्षीय तिवारी 18 अक्टूबर को नाका हिण्डोला थानाक्षेत्र के खुर्शेदबाग में अपने आवास पर बने कार्यालय में खून से लथपथ पाए गए थे.

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बुधवार को बताया कि तिवारी के पोस्टमॉर्टम की रिपोर्ट में कहा गया है कि उनके शरीर में एक गोली लगी है और 15 वार चाकू के हैं. हत्यारों ने अत्यंत बर्बरता से तिवारी की हत्या की थी . कमलेश के चेहरे पर एक गोली मारी गई थी . गोली उनकी ठोढ़ी में फंसी पाई गई . कमलेश के चेहरे और गले पर चाकू के वार के कई निशान पाए गए.

कमलेश तिवारी हत्याकांड: उत्तर प्रदेश पुलिस को मिली तीन आरोपियों की ट्रांजिट रिमांड

पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के मुताबिक तिवारी की छाती के दाहिनी तरह चाकू से वार के दो निशान थे. ठोढ़ी के नीचे गले में छह सेंटीमीटर रेते जाने का निशान पाया गया. गले पर गहरे जख्म का निशान पाया गया. किसी नुकीले हथियार से छाती के बांई ओर सात वार किए गए. दाहिने कंधे पर जख्म के दो निशान पाए गए . पीठ और दाहिने कंधे पर भी चाकू के वार के निशान थे.

कमलेश तिवारी हत्याकांडः मोइनुद्दीन और अशफाक पर 5 लाख का इनाम घोषित

विशेषज्ञों के मुताबिक, तिवारी के शरीर पर मिले जख्मों से साफ जाहिर है कि हत्यारों ने अत्यंत बर्बरता से उन्हें गोली मारी और चाकू से कई बार वार किए. ऐसा लगता है कि हत्यारों ने तिवारी पर पहले गोली चलाई थी. हत्यारों ने दूसरी गोली भी दागने का प्रयास किया लेकिन वह पिस्तौल में फंसी रह गई, जिसके बाद उन्होंने तिवारी पर चाकू और किसी नुकीले हथियार से कई वार किए. पुलिस ने अशफाक शेख (34) और मोइनुद्दीन (27) द्वारा कथित तौर पर इस्तेमाल की गई पिस्तौल और चाकू बरामद कर लिया है.

कमलेश तिवारी हत्याकांड के बाद सोशल मीडिया पर नफरत फैलाने की कोशिश, 72 घंटे में दर्ज हुए 32 मामले

बता दें कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कमलेश तिवारी की पत्नी को 15 लाख रूपये की तात्कालिक आर्थिक सहायता देने का बुधवार को निर्देश दिया. राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने बताया कि योगी आदित्यनाथ ने दिवंगत कमलेश तिवारी के परिवार की मदद के लिए उनकी पत्नी को तात्कालिक रूप से 15 लाख रुपये की आर्थिक सहायता दिए जाने तथा परिवार को तहसील महमूदाबाद, जनपद सीतापुर में एक आवास की सुविधा प्रदान करने के निर्देश दिए हैं.

(इनपुट-भाषा)