लखनऊ : उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओ पी सिंह ने हिन्दू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी की हत्या के दो आरोपियों पर ढाई-ढाई लाख रूपये का इनाम घोषित किया है. राज्य सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने सोमवार को बताया कि डीजीपी ने तिवारी की हत्या के दोनों आरोपियों पर कुल पांच लाख रूपये का इनाम घोषित किया है.

हिंदू समाज पार्टी के 45 वर्षीय नेता कमलेश तिवारी की नाका हिंडोला थानाक्षेत्र स्थित उनके आवास पर शुक्रवार को हत्या कर दी गई थी. इस मामले को लेकर पुलिस महानिदेशक सिंह ने बताया था कि होटल स्टाफ के मुताबिक, हत्या वाले दिन दोनों आरोपियों ने अपने नाम क्रमश: शेख अशफाक हुसैन और मुइनुद्दीन पठान बताये थे. कुछ देर रुकने के बाद दोनों ही होटल से बाहर चले गए. जानकारी के अनुसार दोनों ही लोगों ने भगवा कुर्ता पहन रखा था और उनके हाथ में मिठाई का डिब्बा था.

कमलेश तिवारी हत्याकांड: उत्तर प्रदेश पुलिस को मिली तीन आरोपियों की ट्रांजिट रिमांड

जांच के दौरान पता लगा कि हत्यारे 17 अक्टूबर को होटल में आये थे और 18 अक्टूबर को दोपहर में होटल छोड़कर चले गए. पुलिस ने होटल के उस कमरे से खून से सना भगवा कुर्ता बरामद किया है, जहां हत्यारे रूके थे. होटल के कमरे में एक नये मोबाइल फोन का डिब्बा भी मिला है. मामले की जांच के लिए विशेष जांच दल :एसआईटी: पहले ही बनाया गया है.

कमलेश तिवारी हत्याकांड: योगी बोले- डर का माहौल पैदा करने वालों को कुचलकर रख देंगे

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मृतक तिवारी के परिवार वालों से रविवार को मुलाकात कर हत्यारों को पकड़ने में हरसंभव मदद का आश्वासन दिया था. इस बीच संदिग्ध हत्यारे शाहजहांपुर में दिखाई दिए हैं. जिसके बाद एसटीएफ ने होटलों और मदरसों के मुसाफिरखानो में ताबड़तोड़ छापेमारी शुरू कर दी है. सीसीटीवी फुटेज में संदिग्ध दिखाई दिए हैं. फिलहाल एसटीएफ शाहजहांपुर में डेरा जमाए हुए है और सख्ती से आरोपियों की तलाश में जुटी है. आशंका व्यक्त की जा रही है कि संदिग्ध शाहजहांपुर में ही कहीं छिपे हुए हैं.