कानपुर: उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में ‘आयुष्मान योजना’ के लाभार्थियों में राज्य के कैबिनेट मंत्री सतीश महाना का नाम भी शामिल कर दिया गया. नाम सामने आने के बाद मंत्री सतीश महाना को सफाई देनी पड़ी. उन्होंने डीएम को पत्र लिखकर अपना नाम सूची से हटाने और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने को कहा है. सतीश महान ने बताया कि जैसे ही इस बात की जानकारी हुई कि उनका नाम आयुष्मान योजना में शामिल है, उन्होंने तत्काल इसका संज्ञान लिया. सतीश महाना कानपुर की महाराजपुर सीट से विधायक हैं.

मंत्री सतीश महाना ने कानपुर के जिलाधिकारी विजय विश्वास पंत को चिट्ठी लिखकर अनुरोध किया कि वह और उनका परिवार इस योजना की पात्रता श्रेणी में नहीं आते. इसलिए योजना से उनका और उनके परिवार के लोगों का नाम तत्काल हटा दिया जाए. महाना ने पत्र में यह भी लिखा है कि यह भी पता किया जाए कि किन लोगों ने उनका नाम इस योजना की सूची में दर्ज कराया है. ऐसे लोगों के खिलाफ उन्होंने कार्रवाई करने को कहा है. पत्र की एक प्रतिलिपि मुख्य चिकित्साधिकारी डा़ अशोक शुक्ला को भी भेजी गई है.

बता दें कि आयुष्मान योजना ऐसे लोगों को स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराने के लिए है जो आर्थिक रूप से कमजोर हैं. योजना के तहत एक कार्ड दिया जाता है, जिसमें कई सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों के नाम होते हैं, जहां से उन्हें बिना कोई शुल्क दिए चिकित्सा सुविधा दिए जाने की व्यवस्था की गई है. कुछ दिन पहले ही केंद्र सरकार द्वारा इस योजना को जोर-शोर से शुरू की गई थी.