लखनऊ: कानपुर एनकाउंटर मामले के बाद हरकत में आई पुलिस एक के बाद एक अपराधियों को पकड़ने और खात्मा करने में जुटी है. इसी बीच गैंगस्टर विकास दुबे के दो और साथियों को आज पुलिस ने एनकाउंटर में ढेर कर दिया है. प्रभात मिश्रा पुलिस से हिरासत से भागने की कोशिश कर रहा था, इसी फरीदाबाद से गिरफ्तार किया गया था. इस बीच एनकाउंटर में पुलिस ने प्रभात को ढेर कर दिया. यही नहीं बबन शुक्ला को भी पुलिस ने इटावा में ढेर कर दिया. ये दोनों विकास दुबे गैंग के थे. Also Read - जिसका हुआ था Murder, वो सालों बाद लौटी, बोली- देखने आई हूं पिता-भाई जेल में हैं या नहीं...

बता दें कि कानपुर पुलिस ट्रांजिट रिमांड पर प्रभात मिश्रा को लेकर फरीदाबाद से कानपुरआ रही थी. एसटीएफ की एक टीम इस दौरान इनके साथ थी. इसी दौरान पनकी थाना क्षेत्र के पास पुलिस वाहन के पंक्चर हो जाने के बाद प्रभात ने पुलिस की पिस्टल छीनकर भागने का प्रयास किया. इसके बाद उसने अंधाधुंध फायर शुरू कर दी. इसमें एसटीएफ के दो जवान गंभीर रूप से घायल हो गए. Also Read - विकास दुबे के गांव में दबिश देने से पहले का पुलिस का ऑडियो अब हुआ वायरल, पूर्व SSP की बढ़ेगी मुसीबत

इसके बाद आत्मरक्षा में पुलिस ने जवाबी कार्रवाई में गोली चलाई और बदमाश प्रभात मिश्रा घायल हो गया. इसके बाद उसे अस्पताल ले जाया गया जहां उसकी मौत हो गई. बता दें कि बुधवार को फरीदाबाद से पुलिस ने प्रभात को 2 अन्य लोगों के साथ गिरफ्तार किया था. इसके पास से 4 पिस्टल बरामद हुए हैं. इनमें 9 एमएम की 2 पिस्टल पुलिस से लूटी हुई हैं.