कालपी: करणी सेना का ऐलान छह साल से कम उम्र की बच्चियों के साथ दुष्कर्म करने वालों का सिर काटने वालों को देंगे 25 लाख रुपये का ईनाम साथ ही उस व्यक्ति की न्यायिक पैरवी का पूरा खर्च उठाने का भी किया वादा. करणी सेना ने सुरक्षा व्यवस्था पर कहा कि सरकारें इन जघन्य घटनाओं पर रोक लगाने में नाकाम हैं जिससे समाज में असुरक्षा की भावना बढ़ती जा रही है. Also Read - Pregnancy Stretch Marks: इन नेचुरल तरीकों से दूर होंगे पुराने से पुराने स्ट्रेच मार्क्स

देश में असुरक्षा की भावना बढ़ती जा रही है
राजपूताना करणी सेना ने एक बार फिर कानून को हाथ में लेने का ऐलान किया है. जालौन जिले के कालपी कस्बे में शुक्रवार को क्षत्रिय सम्मेलन के दौरान राष्ट्रीय राजपूताना करणी सेना के प्रदेश अध्यक्ष वीर प्रताप सिंह ने कहा कि छह साल से कम उम्र की बच्चियों के साथ दुष्कर्म करने वालों का सिर काटने वाले को 25 लाख रुपये का ईनाम दिया जाएगा. राष्ट्रीय राजपूताना करणी सेना के प्रदेश अध्यक्ष वीर प्रताप सिंह ने क्षत्रिय सम्मेलन में संवाददाताओं से कहा, देश और प्रदेश में महिलाएं, युवतियां और विशेष कर मासूम बच्चियों के साथ दुष्कर्म की घटनाएं लगातार बढ़ रही हैं, लेकिन सरकारें इन घटनाओं पर रोक लगाने में नाकाम हैं जिससे असुरक्षा की भावना बढ़ती जा रही है. Also Read - सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से पूछा, क्या महबूबा मुफ़्ती हमेशा के लिए हिरासत में हैं, किस आधार पर कैद हैं?

न्यायिक पैरवी का पूरा खर्च करणी सेना उठाएगी
करणी सेना के प्रदेश अध्यक्ष वीर प्रताप सिंह ने कहा, छह साल से कम उम्र की बच्चियों के साथ दुष्कर्म करने वाले का सिर काटकर लाने वाले को करणी सेना की तरफ से 20 लाख रुपये और खुद की तरफ से पांच लाख रुपये (कुल 25 लाख) का नकद ईनाम दिया जाएगा. इसके साथ ही सिर काटने वाले की न्यायिक पैरवी का पूरा खर्च करणी सेना उठाएगी. करणी सेना ने वर्तमान बीजेपी सरकार पर भी तंज कसते हुए कहा कि सरकार अयोध्या में श्रीराम मंदिर नहीं बनवा पा रही है लेकिन अब करणी सेना मंदिर का निर्माण कराएगी. Also Read - पायल घोष ने गवर्नर से मुलाकात कर मांगा न्याय, अनुराग कश्यप पर लगाया था रेप का आरोप