लखनऊ: बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने कर्नाटक विधानसभा चुनाव में भाजपा को 104 सीटें मिलने के लिए कांग्रेस की नीतियों को जिम्मेदार बताया है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने अपने चुनावी भाषणों में जेडीएस को यदि भाजपा की ‘बी टीम’ न बताया होता तो नतीजा कुछ और होता. मायावती ने कहा कि इस चुनाव में भाजपा के विधायकों की संख्या 104 भी नहीं होती, बल्कि इससे काफी नीचे चली जाती. कांग्रेस पार्टी ने थोड़ी सी भूल कर दी, जिसका फायदा भाजपा को मिल गया. Also Read - Hyderabad Election Result 2020: हैदराबाद नगर निगम चुनाव में बजा बीजेपी का डंका, लेकिन सत्ता बरकरार रखने की ओर टीआरएस; जानिए क्या है ओवैसी की पार्टी का हाल

Also Read - वैक्सीनेशन को लेकर कांग्रेस ने उठाए सवाल, अधीर रंजन बोले- आम जनता के टीकाकरण के लिए कोई रोडमैप नहीं

कांग्रेस के भाषणों ने भाजपा को कर्नाटक में दिलाई ज्यादा सीट : मायावती Also Read - GHMC Eelection Results 2020 Update: पलट गए रुझान, सबसे बड़ी पार्टी बनती दिख रही TRS, तीसरे नंबर पर भाजपा!

बसपा प्रमुख ने अपने बयान में कहा कि कांग्रेस पार्टी को मैं सलाह देना चाहती हूं कि इनको आगे भविष्य में किसी भी चुनाव में अपनी चुनावी जनसभाओं में ऐसी भाषा का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए, जिससे उल्टे भाजपा व आरएसएस को ही फायदा पहुंच जाए. मायावती ने कहा कि कर्नाटक चुनाव में कांग्रेस ने अपने भाषणों में खासकर मुस्लिम बहुल क्षेत्रों में जेडी-एस को भाजपा की बी टीम बताकर इनके वोटों को और बांट दिया. यही कारण है कि ऐसे क्षेत्रों में भी अधिकांश भाजपा के उम्मीदवार कामयाब हो गए.

मायावती ने कहा- साजिश हमेशा काम नहीं आती

कर्नाटक में पहली बार एक विधानसभा सीट जीतने वाली बसपा सुप्रीमो मायावती ने बीते दिनों कहा था कि हर बार साजिश काम नहीं आती. बीजेपी अल्‍पमत में भी सरकार बनाना चाहती थी, लेकिन काठ पर हांडी बार-बार नहीं चढ़ती. उन्‍होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने लोकतंत्र को बचा लिया.