प्रयागराज: ‘चलो चलें कुंभ’ अभियान को सफल बनाने की दिशा में एक और कदम बढाते हुए विदेश राज्य मंत्री जनरल वी के सिंह 71 देशों के प्रतिनिधियों के साथ प्रयागराज के कुंभ मेला क्षेत्र में पहुंचे और उन्हें कुंभ मेले की व्यवस्थाओं से रूबरू करवाया. जनरल वी के सिंह ने शनिवार को इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि करीब 71 मिशनों के प्रमुख के समक्ष कुंभ मेले में सुरक्षा और सुविधाओं की दृष्टि से आज जो प्रस्तुति दी गई उससे सभी संतुष्ट होकर जाएंगे और संयुक्त राष्ट्र के 192 देशों में से प्रत्येक देश से कम से कम एक नागरिक कुंभ मेले में जरूर आएगा. Also Read - पूर्व आर्मी चीफ जनरल वीके सिंह का बड़ा खुलासा, भारत ने मारे चीन के 40 सैनिक, कई को बनाया था बंधक

सिंह के नेतृत्व में हेड ऑफ मिशंस का दल आज सुबह प्रयागराज आया. विदेश राज्यमंत्री ने कहा कि हेड ऑफ मिशंस के मन में सुरक्षा, स्वच्छता आदि के बारे में जो भी शंका रही होगी, आज वह दूर हो गई होगी. प्रस्तुति में अपर पुलिस महानिदेशक एस एन साबत ने मेले में आने वाले लोगों के लिए सुरक्षा की तैयारियों की जानकारी दी, जबकि मंडलायुक्त आशीष गोयल ने सुविधाओं आदि के बारे में जानकारी दी. पूरे नगर में पेंट माई सिटी के तहत 20 लाख वर्ग फुट क्षेत्र में कुंभ से जुड़ी पेंटिंग बनाई गई है. वहीं पूरे मेला क्षेत्र में 1.22 लाख शौचालय स्थापित किए गए हैं.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा हेड ऑफ मिशंस की मेजबानी के लिए नामित स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा, “हम प्रधानमंत्री के आभारी हैं कि उन्होंने संयुक्त राष्ट्र से कुंभ मेले को अमूर्त सांस्कृतिक विरासत की मान्यता दिलाई.” उन्होंने हेड ऑफ मिशंस को संबोधित करते हुए कहा, “मुझे उम्मीद है कि 15 जनवरी से चार मार्च तक चलने वाले इस मेले में 15 करोड़ लोग आएंगे. यहां 4,000 लग्जरी कॉटेज बनाए जा रहे हैं जो जहां पांच सितारा से बेहतर सुविधाएं उपलब्ध होंगी. आप किसी अंतरराष्ट्रीय वेबसाइट पर इसकी बुकिंग करा सकते हैं.”

स्कूली बच्चों ने विभिन्न देश से आए प्रतिनिधियों का स्वागत किया. उत्तर प्रदेश के सीएम ऑफिस ने तस्वीर साझा कर ट्वीट पर लिखा, भारत के भविष्य की पीढ़ी पूरे उत्साह के साथ संगम सिटी में Head’s of Mission’s का दिल से स्वागत करती है. पंडाल में प्रस्तुति के बाद प्रतिनिधिमंडल को कस्तूरबा नाम के क्रूज से अरैल घाट ले जाया गया जहां हेड ऑफ मिशंस ने अपने अपने देश का झंडा फहराया. इन देशों में अमेरिका, आस्ट्रिया, कनाडा, बुरुंडी, मोरक्को, मेक्सिको, मारीशस आदि देशों के झंडे फहराए गए.

PM मोदी के गाजीपुर दौरे में शामिल नहीं होंगे योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री राजभर, कहा- कभी बुलाते तो हैं नहीं