कुशीनगर: उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जिले में एक दर्दनाक हादसे में युवती का दुपट्टा चलते हुए जनसेट में फंस गया जिससे उसकी मौत हो गई. रिपोर्ट के मुताबिक महिलाओं और लड़कियों का एक समूह  ट्रैक्टर-ट्रॉली पर बैठकर झरही नदी तट पर मांगलिक कार्यक्रम के अंतर्गत पीड़िया विसर्जित करने जा रहा था इसी दौरान मृतका का दुपट्टा ट्रॉली पर लदे जनरेटर में फंस गया और दम घुटने से उसकी मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई. इसके चलते जहां मंगल-गीत हो रहा था, कुछ ही क्षण में वहां मातम पसर गया.

पूर्व MLC की पत्नी ने भूख से तड़प-तड़प कर तोड़ा दम, घर में बंद कर गया बेटा अब तक नहीं लौटा

मातम में बदली खुशियां
जनपद के विशुनपुरा थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत ठाढीभार के भांगडा मुसहर टोला निवासी बुद्धू मुसहर की पुत्री फूलमती पीड़िया त्योहार मनाने अपने मायके आई हुई थी. सुबह वह गांव की महिलाओं और लड़कियों के साथ पीड़िया स्थल पर मांगलिक गीत कार्यक्रम में शरीक हुई. इसके बाद सभी पीड़िया विसर्जित करने झरही नदी जाने की तैयारी में जुट गए. गांव की महिला-लड़कियां ट्रैक्टर-ट्रॉली पर बैठकर गाजे-बाजे के साथ झरही नदी के किनारे जा रही थीं. ट्रॉली पर जेनसेट भी चल रहा था. सब मांगलिक गीत गाने के साथ त्योहार के उल्लास में व्यस्त थे. इसी बीच जेनसेट में फूलमती के गले का दुपट्टा फंस गया. जब तक लोग कुछ समझ पाते, जेनसेट की चपेट में आने से फूलमती का गला मरोड़ गया, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई. इस घटना से जहां गाजे-बाजे के बीच मंगल-गीत हो रहा था, वहां मातम पसर गया. मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पंचनामा करवाया साथ ही मामला दर्ज कर लिया है. ( इनपुट एजेंसी )

उप्र: पत्नी ने ही सहेली की मदद से कराया कारोबारी राजेश का मर्डर, पुलिस ने सुलझाई गुत्थी