लखनऊ : लश्कर-ए-तैयबा ने आगरा समेत पूरे उत्तर प्रदेश को सीरियल बम धमाकों से दहलाने की धमकी दी है. ख़ुफ़िया एजेंसियों से मिली सूचना के बाद पूरे प्रदेश में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है. डीजीपी मुख्यालय ने एडीजी वाराणसी, एडीजी मेरठ और एडीजी आगरा समेत सभी अफसरों को भेजा अलर्ट. इंटेलिजेंस ब्यूरो से मिले इनपुट के मुताबिक लश्कर के एरिया कमांडर मौलाना अबू शेख ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश समेत समूचे प्रदेश को सीरियल ब्लास्ट के जरिए दहलाने की योजना बनाई है.

latter

यूपी में आतंकी साजिश, लश्कर-ए-तैयबा ने लेटर के जरिए दी धमकी
उत्तर प्रदेश के कई जिलों मथुरा, आगरा, वाराणसी, गोरखपुर समेत कई जिलों को सीरियल धमाकों की धमकी मिली है. आईबी सूत्रों के मुताबिक ये धमकी लश्कर-ए-तैयबा के एरिया कमांडर मौलाना अबू शेख के नाम से दी गई है. 6 जून, 8 जून और 10 जून को कई रेलवे स्टेशन को निशाना बनाये जाने की धमकी के मद्देनजर प्रदेश में हाई अलर्ट घोषित हो गया है. हर जगह पुलिस प्रशासन को चप्पे-चप्पे पर नजर रखने को कहा गया है. धमकी के बाद पुलिस विशेष रूप से चौकन्नी हो गई है. हर संभावित खतरे वाली जगहों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है. खुफिया जानकारी के मुताबिक यूपी में आतंकी साजिश को लेकर लश्कर-ए-तैयबा के एरिया कमांडर (जम्मू और कश्मीर) मौलाना अब्बू शेख के नाम से धमकी भरा लेटर मिला है.

बढ़ाई गई मंदिरों और रेलवे स्टेशन की सुरक्षा
एडीजी कानून व्यवस्था आंनद कुमार ने आईबी से मिले इनपुट के बाद प्रदेश के सभी जिलों के एसपी और एसएसपी को मंदिरों में सुरक्षा बढ़ाने के निर्देश दिए हैं. एडीजी के निर्देश के बाद सभी प्रमुख मंदिरों, रेलवे स्टेशन, सार्वजनिक स्थलों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है. एडीजी ने अधिकारियों को सघन चेंकिंग के साथ साथ पूरी तरह मुस्तैद रहने के भी आदेश दिए हैं. धमकी के मद्देनजर मथुरा के बांके बिहारी मंदिर, कृष्ण जन्मभूमि और रेलवे स्टेशन पर सघन जांच की गई.

 

हापुड़ रेलवे स्टेशन को उड़ाने की धमकी
लश्कर-ए-तैयबा के एरिया कमांडर (जम्मू और कश्मीर) मौलाना अब्बू शेख के नाम से मिले धमकी भरे लेटर में हापुड़ स्टेशन  को 6 जून को उड़ाने की धमकी मिली है. अलर्ट के साथ ही दिल्ली-लखनऊ मार्ग पर चलने वाली ट्रेनों की सघन जांच बम स्क्वायड दस्ते के साथ यूपी पुलिस द्वारा जारी है. एसपी रेलवे सहित आला अधिकारी जांच में जुटे. अधिकारियों ने पूरे  स्टेशन को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया है. पूरे प्रदेश में सभी जगहों पर मेटल डिटेक्टर दुरुस्त करने का काम शुरू हो गया है, एडीजी के मुताबिक प्रदेश के सभी अफसर अलर्ट पर हैं.