नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के मेरठ में पुलिस द्वारा किन्नरों को बुरी तरह से पीटने का मामला सामने आया है. पुलिस ने किन्नरों पर लाठी चार्ज किया. इसका वीडियो वायरल हो रहा है. जिसमें किन्नर दौड़ते और छोड़ देने की गुहार करते दिख रहे हैं. इसके बाद भी उन्हें पीटा जा रहा है.

मामला यूपी के मेरठ ज़िले के लालकुर्ती पुलिस स्टेशन का है. बताया जा रहा है कि पुलिस किन्नरों को थाने लाई थी. उन पर अभद्रता करने का आरोप था. पुलिस का कहना है कि किन्नरों ने थाने में भी अभद्रता की. इस वजह से उन्हें काबू में करने के लिए लाठीचार्ज किया गया. मेरठ के एसएसपी का कहना है कि किन्नर अभद्रता कर रहे थे. उन्हें काबू में करने के लिए ऐसा किया गया, लेकिन अगर ये ज़रूरत से ज़्यादा हुआ है तो मामले को देखा जाएगा.

वहीं, वायरल हो रहे वीडियो में देखा जा सकता है कि किन्नर खुद को बचाने के लिए थाने में इधर उधर भाग रहे हैं. उनके कपड़े अस्त-व्यस्त हैं. इसके बाद भी उन पर लाठियां चलाई जा रही हैं. उन पर लात घूंसे भी चलाए गए. लालकुर्ती प्रभारी रोजंत त्यागी ने कहा कि इस इलाके के किन्नरों का दूसरे इलाके के किन्नरों से झगड़ा हो गया था. इस मामले में नौ किन्नरों को गिरफ्तार किया गया है.

पुलिस के अनुसार, सोमवार सुबह बधाई लेने दूसरे इलाके के किन्नर लाली, मां का लाल, तमन्ना, आमिर और सोनिया जब कमल नाम के युवक के यहां पहुंचे तो उसी इलाके के किन्नर के उस्ताद नीलफर, चांदनी, रानी, शेरशाह, पराठा वहां पहुंच गए और उनकी आपस में बधाई लेने और इलाके को लेकर आपस में मारपीट हो गई. इस दौरान लाठी-डंडे चले जिससे वहां जमकर गाली-गलौज हुई और एक दूसरे के कपड़े फाड़ दिये गये.

पुलिस ने कहा कि सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने समझाने का प्रयास किया तो किन्नरों ने पुलिकर्मियों के साथ भी हाथापाई शुरू कर दी. इसके बाद पुलिस थाने में मौजूद पुलिसकर्मियों ने किन्नरों पर लाठियां भांजकर उन्हें वहां से खदेड़ा.